अखंड भारत तब बनेगा, जब सभी जातियों का प्रत्येक व्यक्ति भाईचारे और प्रेम से रहने लगेगा: अशोक गहलोत

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने शुक्रवार को आरएसएस पर सरदार पटेल, बी. आर. अंबेडकर और महात्मा गांधी जैसे दिग्गज नेताओं के नामों को भुनाने का आरोप लगाया।

फोटोः IANS
फोटोः IANS
user

नवजीवन डेस्क

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने शुक्रवार को आरएसएस पर सरदार पटेल, बी. आर. अंबेडकर और महात्मा गांधी जैसे दिग्गज नेताओं के नामों को भुनाने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि आरएसएस ने उन पर कभी विश्वास नहीं किया, लेकिन वे सिर्फ चुनाव जीतने के लिए उनका नाम ले रहे हैं।

सीएम गहलोत ने कहा, "न तो जनसंघ, न अब बीजेपी और न ही आरएसएस ने कभी उन पर विश्वास किया, लेकिन अब वे चुनावी लाभ के लिए उनका नाम ले रहे हैं।"

वह आरएसएस के दिग्गज मोहन भागवत के उस दावे पर एक सवाल का जवाब दे रहे थे, जिसमें उन्होंने कहा था कि अगले 15 साल में अखंड भारत का निर्माण होगा। गहलोत ने कहा, "वे अखंड भारत की बात करते हैं, लेकिन सरदार पटेल ने उन पर प्रतिबंध लगा दिया था। उन्होंने इसे लिखित रूप में दिया था कि वे कभी भी राजनीति में भाग नहीं लेंगे और केवल सांस्कृतिक कार्यों और सामाजिक कार्यों में भाग लेंगे।"


आरएसएस को वास्तव में सभी जातियों और धर्मों के लोगों को प्रेम, सद्भाव और अहिंसा का संदेश फैलाने के लिए प्रत्येक घर का दौरा करना चाहिए। उन्होंने कहा कि अखंड भारत तब बनेगा, जब सभी जातियों का प्रत्येक व्यक्ति भाईचारे और प्रेम से रहने लगेगा।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia