रामलला की प्राण प्रतिष्ठा पर तेज प्रताप ने कहा, राम को लाने से पहले अपने अंदर के रावण को बाहर निकालें अंधभक्त

तेज प्रताप ने सोमवार को एक्स पर लिखा कि राम तो सबके मन में हैं। अंधभक्त राम को लाने से पहले अपने अंदर के रावण को बाहर निकालें क्योंकि राम के लोग कभी भेदभाव नहीं करते।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

योध्या में श्री राम मंदिर में सोमवार को प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम को लेकर पूरे देश में उत्साह का माहौल है और कई जगहों पर राम नाम का भजन, अखंड कीर्तन का आयोजन किया गया है।

इस बीच, आरजेडी के नेता और बिहार के मंत्री तेज प्रताप यादव ने नसीहत देते हुए कहा कि अंधभक्त राम को लाने से पहले अपने अंदर के रावण को बाहर निकालें।

आरजेडी अध्यक्ष लालू प्रसाद के पुत्र और मंत्री तेज प्रताप ने सोमवार को एक्स पर लिखा कि राम तो सबके मन में हैं। अंधभक्त राम को लाने से पहले अपने अंदर के रावण को बाहर निकालें क्योंकि राम के लोग कभी भेदभाव नहीं करते।

उन्होंने आगे लिखा कि सबसे पहले महिलाओं के ख़िलाफ़ अत्याचार बंद होना चाहिए और ग़रीबी और भूख जैसे रावण को कैसे ख़त्म करे इस पर विचार होना चाहिए। राम को लाना है तो अपने बुरे विचारों को बाहर निकालिए और देश को प्रेम, सद्भाव और खुशहाली के रास्ते पर ले के चलिए।

उल्लेखनीय है कि लालू प्रसाद पहले ही इस प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम में जाने से इनकार कर चुके हैं।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;