26/11 आतंकी हमले की बरसी पर राहुल गांधी ने कहा- जिन्होंने अपनी जान, उनके बलिदान को जानो, साहस को पहचानो

13 साल पहले 2008 में आज के ही दिन मुंबई में आतंकियों ने नापाक साजिश को अंजाम दिया था। 26/11आतंकी हमले आज 13 वीं बरसी है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

13 साल पहले 2008 में आज के ही दिन मुंबई में आतंकियों ने नापाक साजिश को अंजाम दिया था। 26/11आतंकी हमले आज 13 वीं बरसी है। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने आतंकी हमले में शहीद हुए सुरक्षाकर्मियों को श्रद्धांजलि देते हुए कहा है कि जिन्होंने अपनी जान दी, उनके बलिदान को जानो, साहस को पहचानो।

राहुल गांधी ने शुक्रवार को 26/11 हमले की बरसी पर एक वीडियो जारी कर शहीद होमगार्ड मुकेश भीकाजी, सब इंस्पेक्टर बाबू राव साहब राव, कॉन्स्टेबल योगेश शिवाजी पाटील, कॉन्स्टेबल राहुल सुभाष शिंदे, मुरलीधरन लक्ष्मण चौधरी, पुलिस कॉन्स्टेबल अरुण रघुनाथ चिटे सहित सभी इस आतंकी हमले में मारे गए शहीदों को नमन किया है।

राहुल गांधी ने शहीदों को याद करते हुए कहा, जिन्होंने अपनी जान, उनके बलिदान को जानो, साहस को पहचानो। सीमा पर कठिन मौसम में परिवार से दूर रहकर देश की रक्षा करता है। आतंकवादी हमले में अपनी जान की बाजी लगाकर मासूमों को बचाता है। जान की नहीं, जहान की फिक्र करता है। परिवार की, गाँव की, देश की शान है- ऐसा मेरे देश का जवान है। 26/11 आतंकी हमले के वीरों को नमन। जय हिंद!


आज ही के दिन, 26 नवंबर 2008 को 10 पाकिस्तानी आतंकवादियों ने मुंबई को दहला दिया था। समुद्र के रास्ते मुंबई पहुंचे इन आतंकवादियों ने मुंबई में कई जगहों पर अंधाधुंध फायरिंग कर निर्दोष लोगों की जानें ले ली थी। इस आतंकी हमले में 18 सुरक्षाकर्मियों सहित 166 लोग मारे गए थे। आज पूरा देश इस भयावह आतंकी हमले में शहीद हुए जवानों और अधिकारियों को श्रद्धाजंलि दे रहा है और पीड़ितों को याद कर रहा है।


शहीदों को याद करते हुए देश के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने ट्वीट कर कहा , 26/11 मुंबई आतंकी हमले के शहीदों और पीड़ितों को मेरी भावभीनी श्रद्धांजलि। कर्तव्य के लिए अपने प्राणों की आहुति देने वाले सुरक्षाबलों की बहादुरी और बलिदान के लिए देश हमेशा उनका आभारी रहेगा।


मुंबई आतंकी हमले की 13 वीं बरसी पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने ट्वीट कर कहा, मुंबई पर 26 नवंबर को हुए आतंकी हमले की 13 वीं बरसी पर , हम उन बेकसूर लोगों को याद कर रहे हैं जिन्हें हमने खो दिया। उन हमलों में जान गंवाने वाले सभी लोगों को मेरी श्रद्धांजलि। हमारे सुरक्षा बलों ने 26/11 हमलों के दौरान अनुकरणीय साहस का परिचय दिया। मैं उनकी बहादुरी और बलिदान को सलाम करता हूं।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia