प्याज के आंसू रोने के लिए रहें तैयार! और बढ़ सकते हैं दाम, नासिक मंडी से आई परेशान करने वाली खबर!

देश में पिछले साल से ज्यादा प्याज की बुवाई हुई है। पिछले साल 6900 हेक्टेयर में प्याज की बुवाई हुई थी। जबकि इस बार 7600 हेक्टेयर में प्याज की बुवाई हुई है। बताया जा रहा है कि बारिश की वजह से फसलें बर्बाद हो गई थीं, जिसकी वजह से प्याज के दाम बढ़ रहे हैं।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

प्याज के आंसू रोने के लिए तैयार हो जाइए, क्योंकि देश में प्याज के दाम और बढ़ सकते हैं। महाराष्ट्र के नासिक के लासलगांव मंडी में प्याज की कीमतें 4500 रुपये प्रति क्विंटल तक पहुंच गई हैं। मतलब यह कि लासलगांव मंडी में एक किलो प्याज की कीमत 45 रुपये हो गई है। एक व्यापारी ने कहा कि बारिश की वजह से प्याज की कीमतें बढ़ रही हैं, और आने वाले दिनों में कीमते और बढ़ने की संभावना है। आज की दर 3500 रुपये से लेकर 4500 रुपये प्रति क्विंटल के बीच है।

अगर देश की सबसे बड़ी प्याज मंडियों में से एक मंडी में अगर प्याज की प्याज की कीमत इतनी है तो जाहिर है कि प्याज के दाम आने वाले दिनों और बढ़ सकते हैं। यानी आने वाले दिनों में आपको प्याज खाने के लिए अपनी जेब और ढीली करनी पड़ सकती है। इस समय देश में फुटकर में प्याज की कीमत 60 रुपये किलो तक पहुंच गई है।

यूपी के गोरखपुर के महेवा मंडी में शुक्रवार को नासिक के सुपर प्याज की कीमत 45 से 48 रुपये के बीच रही। मध्य प्रदेश के शाजापुर के प्याज की कीमत 42 से 44 रुपये, राजस्थान के भावनगर के प्याज की कीमत 40 से 42 रुपये और बंगाल और गुजरात के प्याज की कीमत 36 से 38 रुपये रही।


इस साल पिछले साल से ज्यादा प्याज की बुवाई हुई है। पिछले साल 6900 हेक्टेयर में प्याज की बुवाई हुई थी। जबकि इस बार 7600 हेक्टेयर में प्याज की बुवाई हुई है। बताया जा रहा है कि बारिश की वजह से फसलें बर्बाद हो गई थीं, जिसका असर अब देखा जा रहा है। मार्च से प्याज की आवक शुरू हो जाएगी। तब जाकर शायद जनता को कुछ राहत मिले। फिलहाल अगले कुछ दिनों तक प्याज की बढ़ती कीमतों से जनता को राहत मिलती दिखाई नहीं दे रही है।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


Published: 20 Feb 2021, 1:30 PM
;