2000 का नोट बंद होने पर चिदंबरम की टिप्पणी, कहा- यह तो होना ही था, हैरान मत होना अगर 1000 रुपए का नोट भी वापस आ जाए

पूर्व केंद्रीय वित्त मंत्री पी चिदंबरम ने 2000 रुपए का नोट बंद किए जाने पर कहा है कि इसके साथ ही नोटबंदी का चक्र पूरा हो गया। उन्होंने कहा कि हैरानी नहीं होगी अगर जल्द ही 1000 रुपए का नोट फिर से वापस आ जाए।

पूर्व केंद्रीय वित्त मंत्री पी चिदंबरम ने 2000 रुपए का नोट बंद होने पर तीखी टिप्पणी की है। (फोटो -Getty Images)
पूर्व केंद्रीय वित्त मंत्री पी चिदंबरम ने 2000 रुपए का नोट बंद होने पर तीखी टिप्पणी की है। (फोटो -Getty Images)
user

नवजीवन डेस्क

2000 रुपए का नोट बंद किए जाने की आरबीआई की अधिसूचना पर पूर्व केंद्रीय वित्त मंत्री पी चिदंबरम ने कहा है कि इस कदम से अब नोटबंदी ने अपना चक्र पूरा कर लिया है। उन्होंने एक लंबे ट्वीट में कहा कि, “जैसा कि अपेक्षित था, सरकार या आरबीआई ने 2000 रुपए का नोट वापस लेने का ऐलान कर दिया है, और इसे बदलने के लिए 30 सितंबर तक की मीयाद तय की है। वैसे 2000 रुपए का नोट बहुत ज्यादा लोकप्रिय नहीं था और आम लेनदेन में इसका कम ही इस्तेमाल होता था।”

उन्होंने आगे कहा है कि, “हमने नवंबर 2016 में (जब पीएम मोदी ने नोटबंदी का ऐलान किया था) भी कहा था और अब हम सही साबित हुए हैं कि 2000 रुपए का नोट तो सिर्फ एक ऐसा बैंड-एड था जिसे 500 रुपए और 1000 रुपए के नोट को बंद कर नोटबंदी जैसा मूर्खतापूर्ण फैसले पर पर्दा डालने के लिए लाया गया था। ध्यान दिला दें कि नोटबंदी के कुछ समय बाद ही 500 रुपए का नोट फिर से चलन में आ गया था, और मुझे बिल्कुल हैरानी नहीं होगी कि जल्द ही 1000 रुपए का नोट भी चलन में फिर से आ जाए। इस तरह नोटबंदी ने अपना चक्र पूरा कर लिया है।”

पी चिदंबरम ने एक और ट्वीट में कहा कि, "2000 का नोट कभी भी क्लीन करेंसी नहीं था। इसे अधिकतर लोग इस्तेमाल नहीं करते थे। यह तो सिर्फ उन लोगों के लिए था जो अपनी कालाधान रखते थे।"

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;