भारत से व्यापार पर पाकिस्तान ने लिया यू टर्न, कश्मीर का राग अलापते हुए कैबिनेट ने पलटा फैसला

पाकिस्तान की एक कैबिनेट कमेटी ने बुधवार को भारत से सीमित व्यापार बहाल करने का फैसला लिया था। लेकिन 24 घंटे के अंदर ही पीएम इमरान खान की अध्यक्षता वाली कैबिनेट ने फैसले को पलट दिया और कहा कि जम्मू-कश्मीर में पहले जैसी स्थिति होने पर ही व्यापार बहाल होगा।

फाइल फोटोः सोशल मीडिया
फाइल फोटोः सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

पाकिस्तान ने करीब दो साल से बंद भारत के साथ व्यापार को सीमित रूप से फिर से बहाल करने के फैसले पर 24 घंटे के अंदर ही यूटर्न लेते हुए फैसले को पलट दिया है। प्रधानमंत्री इमरान खान की अध्यक्षता में गुरुवार को हुई कैबिनेट बैठक में भारत से चीनी और कपास आयात करने के आर्थिक मामलों की समिति के फैसले को खारिज कर दिया गया।

पाकिस्तान की इमरान सरकार में मानवाधिकार मंत्री शिरीन माजरी ने इस फैसले की जानकारी देते हुए ट्वीट किया है, जिसमें उन्होंने लिखा है, “आज हुई कैबिनेट बैठक में स्पष्ट रूप से फैसला लिया गया कि भारत के साथ व्यापार संबंध तब तक बहाल नहीं किए जाएंगे, जब तक वह जम्मू-कश्मीर से धारा 370 को हटाने का अपना फैसला वापस नहीं ले लेता है।”

बता दें कि पाकिस्तान कैबिनेट की आर्थिक मामलों की समिति ने बुधवार को भारत से चीनी और कपास के आयात को मंजूरी देने का फैसला किया था। समिति ने यह फैसला इन दोनों वस्तुओं की पाकिस्तान में किल्लत की वजह से बेतहाशा बढ़ती कीमतों को नियंत्रित करने के तहत लिया था। इसके बाद माना जा रहा था कि धीरे-धीरे दोनों देशों की बीच व्यापार पूरी तरह से बहाल हो जाएगा।

हालांकि, अगर पाकिस्तान भारत से व्यापार को बहाल कर देता तो करीब दो साल बाद दोनों देशों के बीच फिर से व्यापार होता। पाकिस्तान ने अगस्त 2019 में जम्मू-कश्मीर से धारा 370 हटाने के विरोध में भारत के साथ व्यापार बंद कर दिया था। वहीं भारत ने उससे पहले पुलवामा हमले के बाद पाकिस्तान से आयात होने वाली वस्तुओं पर 200 फीसदी ड्यूटी लगा दिया था, जिससे व्यापार पर असर पड़ा था।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


लोकप्रिय