पाकिस्तानी सैनिकों ने एलओसी पार कर किया हमला, एक भारतीय जवान शहीद

सूत्रों के मुताबिक गोलीबारी के बीच पाकिस्तानी सेना के पांच से छह जवान भारतीय क्षेत्र में घुस आए। इसके बाद वह एक भारतीय सेना की चौकी के पास आए और अंधाधुंध गोलीबारी शुरू कर दी, जिसमें सेना का एक जवान शहीद हो गया। शहीद जवान मराठा रेजिमेंट से था।

फोटो: IANS
फोटो: IANS

आईएएनएस

पाकिस्तानी सेना के करीब पांच से छह जवान गुरुवार की रात नियंत्रण रेखा (एलओसी) को पार कर जम्मू और कश्मीर में दाखिल हुए। उन्होंने भारतीय सेना की चौकी पर गोलीबारी की, जिसमें एक जवान शहीद हो गया। सेना के एक सूत्र ने बताया, “यह एक स्टैंड-ऑफ स्थिति थी।”

स्टैंड-ऑफ एक ऐसी स्थिति होती है, जिसमें दो विरोधी समूहों या बलों में से कोई भी तब तक कदम नहीं उठाएगा, जब तक कि दूसरा कोई कार्रवाई नहीं करता।

यह घटना पुंछ जिले के कृष्णाघाटी सेक्टर में नांगी टेकरी इलाके में शाम सात बजे हुई। पाकिस्तान ने कृष्णाघाटी सेक्टर में नियंत्रण रेखा के पास युद्धविराम का उल्लंघन शुरू किया जो देर रात तक जारी रहा।

सूत्रों के मुताबिक गोलीबारी के बीच पाकिस्तानी सेना के पांच से छह जवान भारतीय क्षेत्र में घुस आए। इसके बाद वह एक भारतीय सेना की चौकी के पास आए और अंधाधुंध गोलीबारी शुरू कर दी, जिसमें सेना का एक जवान शहीद हो गया। शहीद जवान मराठा रेजिमेंट से था।

सूत्रों ने कहा कि पाकिस्तान बलों ने भारतीय क्षेत्र में घुसने के लिए इलाके में भारी गोलाबारी का लाभ उठाया और चौकी पर हमला किया। उन्होंने कहा, "स्थिति तनावपूर्ण है। पूर्ण स्टैंड-ऑफ स्थिति है। सैनिकों ने हालांकि जवाबी कार्रवाई की"

सूत्रों ने कहा कि पाकिस्तान सेना ने कश्मीर घाटी में शांति और सद्भाव को अस्थिर करने के उद्देश्य से हमले को अंजाम दिया।

विदेश मंत्रालय के अनुसार, 2019 में सितंबर महीने तक पाकिस्तान सेना ने दो हजार से अधिक बार संघर्ष विराम का उल्लंघन किया है, जिसमें 21 भारतीय मारे जा चुके हैं।

Published: 8 Nov 2019, 6:00 PM
लोकप्रिय