मोदी कैबिनेट में पासवान ही बनेंगे मंत्री, चिराग पासवान होंगे ससंदीय दल के नेता, एलजेपी की बैठक में फैसला

एलजेपी संसदीय बोर्ड की बैठक में सर्वसम्मति यह निर्णय लिया गया है कि चिराग पासवान संसदीय दल के नेता होंगे जबकि महबूब अली कैसर संसदीय दल के उपनेता होंगे। वहीं एलजेपी कोटे से रामविलास पासवान ही केंद्र सरकार में मंत्री होंगे।

फोटो: सोशल मीडिया 
फोटो: सोशल मीडिया

नवजीवन डेस्क

एनडीए की सहयोगी लोक जनशक्ति पार्टी ने मंगलवार को एक प्रस्ताव पारित कर मोदी सरकार में पार्टी के प्रतिनिधि के रूप में एलजेपी अध्यक्ष रामविलास पासवान के नाम की सिफारिश की। जमुई से सांसद चिराग पासवान ने इन खबरों को भी कोई महत्व नहीं दिया कि निवर्तमान कैबिनेट मंत्री और उनके पिता रामविलास पासवान ने नये मंत्रिपरिषद के लिए उनके नाम पर जोर दिया है।

चिराग पासवान ने बताया कि पार्टी की बैठक में तय किया गया कि मैं लोकसभा में संसदीय दल के नेता की जिम्मेदारी निभाउंगा। वहीं, खगड़िया से नवनिर्वाचित सांसद महबूब अली कैसर लोकसभा में संसदीय दल के उपनेता होंगे। इसके अलावा पार्टी अध्यक्ष राम विलास पासवान केंद्र सरकार में मंत्री बनेंगे।

उन्होंने आगे कहा, “वह मंत्रिमंडल का हिस्सा नहीं होंगे और 2020 में बिहार में होने वाले विधानसभा चुनाव की तैयारी पर अपना ध्यान केन्द्रित करेंगे।”

इस संसदीय बोर्ड की बैठक में पार्टी के मुखिया रामविलास पासवान, उनके बेटे और सांसद चिराग पासवान के अलावा रामविलास पासवान के भाई और हाजीपुर से सांसद पशुपति पारस, महबूब अली कैसर, वीणा देवी आदि मौजूद थे।

बता दें कि लोकसभा चुनाव में एलजेपी बिहार में सात सीटों पर चुनाव लड़ी थी और पहली बार पार्टी को सभी सीटों पर जीत मिली है। राम विलास पासवान लोकसभा चुनाव 2019 में खुद चुनाव नहीं लड़े थे। यह पहला अवसर था, जब वह लोकसभा चुनाव नहीं लड़े हैं। वह पहली बार 1977 में बिहार के हाजीपुर संसदीय सीट से चुनाव जीते थे।

(आईएएनएस के इनपुट के साथ)

लोकप्रिय