उत्तर प्रदेश में फैली एक और लॉकडाउन की अफवाह, खरीददारी के लिए भागे लोग, मची अफरातफरी

उत्तर प्रदेश सरकार के प्रवक्ता ने कहा कि सोशल मीडिया पर एक और लॉकडाउन की अफवाह फैल रही है, जिसपर हम नजर रखे हुए हैं। उन्होंने कहा कि प्रशासन पूरी तरह से तैयार है और लोगों को घबराने की जरूरत नहीं है। अफवाह फैलाने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया
user

आईएएनएस

उत्तर प्रदेश के साथ ही देश भर में कोरोना वायरस मामलों में काफी इजाफा देखने को मिल रहा है। इस बीच एक बार फिर से लॉकडाउन लागू होने की अफवाह के चलते सोमवार को राज्य में लोग जरूरी सामानों की खरददारी करने बाजारों पर उमड़ पड़े। बाजारों में किराने की दुकानों पर लोगों की भीड़ लग गई। लोग जरूरी सामानों के लिए यहां-वहां भागते देखे गए।

दरअसल सोमवार को लॉकडाउन में मिली रियायतों के बाद लखनऊ में भी अधिकतर दुकानें, शॉपिंग मॉल फिर से खुल गए, लेकिन बहुत कम संख्या में लोग इन जगहों पर पहुंचे। लेकिन अचानक किराने की दुकानों, बुक स्टोर, स्टेशनरी और बैंकों में सामान्य दिनों से बहुत अधिक संख्या में ग्राहकों को देखा गया।

महानगर इलाके में किराना की दुकान चलाने वाले अनिकेत अग्रवाल ने कहा, "हमारे यहां आए ग्राहक भारी मात्रा में समानों की खरीददारी कर रहे थे और जब हमने उनसे पूछा तो उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस के मामलों में वृद्धि के कारण एक बार फिर से लॉकडाउन हो सकता है।" उन्होंने कहा कि लोग अनाज के अलावा डेयरी व्हाइटनर, बेबी फूड, सेनेटरी पैड, डायपर और रेडी टू ईट फूड बड़ी मात्रा में खरीद रहे हैं।

एक गृहिणी श्यामली रॉय ने कहा, "हम आवश्यक उपयोग के सामान यहां तक कि शैंपू, साबुन, टूथपेस्ट, होजरी के सामान और स्नैक्स खरीद रहे हैं, ताकि फिर लॉकडाउन होने से घर में कोई समस्या पैदा न हो। हमें पता है कि लॉकडाउन में किन चीजों की अधिक जरूरत होगी।"

इस दौरान राजधानी में छात्रों ने पुस्तक और स्टेशनरी स्टोर से भी बड़ी मात्रा में खरीददारी की। कक्षा 9 की छात्रा अलीशा सिद्दीकी ने कहा, "हम लोग ऑनलाइन क्लास ले रहे हैं और यह अगले दो-तीन महीनों तक चलने वाला है, इसलिए हम अपनी जरूरत की किताबें खरीद रहे हैं।"

शहर के अधिकांश बैंकों में भी ग्राहकों की भीड़ देखने को मिली। एक निजी बैंक के जूनियर एक्जीक्यूटिव गौरव ने कहा, "हमारे यहां कई ग्राहक पैसे निकालने के लिए आए थे, जबकि पैसा जमा करने वालों की संख्या बहुत कम थी।"

इस बीच, उत्तर प्रदेश सरकार के प्रवक्ता ने कहा कि सोशल मीडिया पर एक और लॉकडाउन की अफवाह फैल रही है, हम नजर रखे हुए हैं। उन्होंने कहा, "हम पूरी तरह से तैयार हैं और घबराने की जरूरत नहीं है। अफवाह फैलाने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।"

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia