PM ने हरी झंडी दिखाकर 6 वंदे भारत और 2 अमृत भारत ट्रेन का किया उद्घाटन

पैसेंजर फैसिलिटीज डेस्क और टूरिस्ट इन्फॉर्मेशन सेंटर की मदद से यहां आने वाले यात्रियों को श्री राम मंदिर के साथ क्षेत्र के हर आध्यात्मिक और पर्यटन जगहों तक जाने की जानकारी और अच्छे से पहुंचने के लिए साधनों की भी जानकारी मिल पाएगी।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अयोध्या धाम रेलवे स्टेशन से हरी झंडी दिखाकर 6 वंदे भारत और दो अमृत भारत एक्सप्रेस ट्रेन का शुभारंभ किया।

प्रधानमंत्री के साथ उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, केंद्रीय रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव, राज्यपाल उत्तर प्रदेश आनंदीबेन पटेल समेत कई नेता मौजूद थे। ट्रेनों के साथ अयोध्या की जनता को नए अयोध्या धाम रेलवे स्टेशन की सौगात मिली है। इसका निर्माण कार्य तीन फेज में चल रहा है। निर्माण कार्य में इस स्टेशन का पहला फेज बनकर तैयार हो चुका है। 240 करोड़ की लागत से रेलवे स्टेशन बना है, जिसका उद्धघाटन पीएम मोदी ने किया है।

इस स्टेशन में शिशु देखभाल केंद्र, बीमार लोगों के लिए अलग केबिन, पर्यटन सूचना केंद्र के साथ-साथ देश के सबसे बड़े कॉनकोर्स सेटअप को भी बनाया जा रहा है। यहां इंफेंट केयर रूम होगा जहां पैसेंजर अपने दूध पीते बच्चों को किसी भी तरह का मेडिकल चेकअप करा सकते हैं। इसी तरह, अगर आपको किसी भी तरह से यात्रा के दौरान चोट लग जाती है या फिर किसी भी तरह की परेशानी का सामना करना पड़ जाता है, तो यहां सिक रूम में फर्स्ट एड और मेडिकल अटेंशन की सुविधा भी है।

वहीं, पैसेंजर फैसिलिटीज डेस्क और टूरिस्ट इन्फॉर्मेशन सेंटर की मदद से यहां आने वाले यात्रियों को श्री राम मंदिर के साथ क्षेत्र के हर आध्यात्मिक और पर्यटन जगहों तक जाने की जानकारी और अच्छे से पहुंचने के लिए साधनों की भी जानकारी मिल पाएगी। ये सभी सुविधाएं ग्राउंड फ्लोर पर होंगी, इसे पूरा जी प्लस टू मॉडल (ग्राउंड प्लस मिडिल व फर्स्ट फ्लोर) पर बनाया गया है।

इसके अलावा, क्लाक रूम, फूड प्लाजा, वेटिंग हॉल्स, स्टेयरकेस, एस्केलेटर्स, लिफ्ट और टॉयलेट्स के साथ कई सुविधाएं भी दी जाएंगी। अयोध्या धाम स्टेशन के मिडिल फ्लोर पर रिटायरिंग रूम, लेडीज डॉर्मेटरी, एसी रिटायरिंग रूम, जेंट्स डॉर्मेटरी, स्टेयरकेस, रिलीविंग स्टाफ के लिए लॉजिंग रूम, स्टेशन मास्टर और महिला स्टाफ का रूम बनाया गया है।


वहीं, फर्स्ट फ्लोर पर देश के सबसे बड़े कॉनकोर्स सेटअप को भी तैयार किया जा रहा है। इसके अलावा, फर्स्ट फ्लोर पर फूड प्लाजा, वेटिंग हाल, टॉयलेट, पेयजल, एस्केलेटर्स, लिफ्ट, स्टाफ रूम, दुकानें, वेटिंग रूम समेत एंट्री पुल की सुविधा भी दी जाएगी। साथ ही, दिव्यांगों के लिए कई खास तरह के शौचालयों को भी तैयार किया गया है। अयोध्या रेलवे स्टेशन का निर्माण कार्य 2018 से शुरू किया गया था, पहले चरण में बनाए गए भवन में श्री राम मंदिर की तरह एक भव्य आकर्षण बनाया गया है।

भवन में लगी टाइल्स, पत्थर, शीशे, दरवाजे, लाइटिंग आदि चीजें आपको मंत्रमुग्ध कर देंगी। भवन के ठीक बीचों-बीच भारी भरकम पंखा लगा है और उसके ठीक नीचे फर्श की डिजाइन यकीनन आपको बेहद पसंद आएगी। यही नहीं, स्टेशन परिसर के बाहर का बड़ा परिसर भी रेलवे स्टेशन की भव्यता का गवाह बन चुका है।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;