हालात

पकौड़ा तलने को रोजगार बताने वाले पीएम का छात्रों ने पकौड़ा बेचकर किया विरोध, पुलिस ने हिरासत में लेकर छोड़ा

चंडीगढ़ में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी यहां की बीजेपी उम्मीदवार किरण खेर के समर्थन में रैली करने पहुंचे थे। यहां उनके विरोध में कुछ छात्र उनकी रैली की जगह के पास पकौड़ा बेच रहे थे। पुलिस ने रैलीस्थल के पास पकौड़ा बेच रहे करीब 10 से 12 छात्रों को हिरासत में ले लिया।

फोटो: सोशल मीडिया 

नवजीवन डेस्क

पिछले साल जनवरी में रोजगार के सवाल पर पीएम मोदी ने कहा था कि लोग पकौड़ा बेच कर एक दिन में 200 रूपया कमा रहे हैं उसे बेरोजगारी नहीं माना जा सकता। उनके इस बयान को लेकर एक बार फिर छात्रों ने विरोध किया है। मामला मंगलवार का है। जहां चडीगढ़ में पीएम मोदी रैली करने गए थे वहीं इंजीनियरिंग, बीए और एलएलबी की डिग्रीधारी छात्र पकौड़े बेचकर अपना विरोध जता रहे थे।

पकौड़ा तलने  को रोजगार बताने वाले  पीएम का छात्रों ने पकौड़ा बेचकर किया विरोध, पुलिस ने हिरासत में लेकर  छोड़ा

खबरों के मुताबिक, चंडीगढ़ में मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी यहां की बीजेपी उम्मीदवार किरण खेर के समर्थन में रैली करने पहुंचे थे। यहां उनके विरोध में कुछ छात्र उनकी रैली की जगह के पास पकौड़ा बेच रहे थे। जैसे ही इसकी खबर पुलिस को मिली। आनन-फानन में पुलिस ने रैलीस्थल के पास पकौड़ा बेच रहे करीब 10 से 12 छात्रों को हिरासत में ले लिया। हालांकि, पुलिस ने पीएम की रैली खत्म होने के बाद उन्हें रिहा कर दिया। सेक्टर 34 के थाना इंचार्ज ने बताया कि इन छात्रों को पुलिस ने एहतियातन हिरासत में लिया था।

पकौड़ा बेच रहे छात्रों ने कहा, ‘‘हम यहां पकौड़ा योजना के तहत हमें नये रोजगार देने के लिए मोदीजी का स्वागत करने के लिए आए हैं। हम पीएम मोदी की रैली में पकौड़ा बेचना चाहते हैं ताकि, वह जान सकें कि शिक्षित युवा के लिए पकौड़ा बेचना कितना महान है।’’

कांग्रेस ने छात्रों को हिरासत में लेने पर पीएम मोदी पर हमला बोला है। उन्होंने पूछा कि बेरोजगारी से निपटने के लिए पीएम मोदी का पकौड़ा योजना प्लान में शामिल नहीं था। छात्रों को क्यों गिरफ्तार किया गया?

आंकड़ों की मानें तो रोजगार देने के मामले में मोदी सरकार पूरी तरह से फेल रही है। आज देश में करोड़ों युवा बेरोजगार है और सरकार से पूछ रहे हैं कि हर साल 2 करोड़ नौकरी देने के वादे का क्या हुआ? रोजगार देना तो दूर 2014 से अबतक कई लाख लोग अपनी नौकरी से हाथ धो चुके हैं। नेशनल सैंपल सर्वे ऑफिस (एनएसएसओ) की रिपोर्ट के मुताबकि देश में पुरुष कामगारों की संख्या तेजी से घट रही है। इस दौरान करीब 3.2 करोड़ अनियमित मजदूर बेरोजगार हो गए हैं। इतना ही नहीं साल 2017-18 में तो बेरोजगारी का स्तर 45 साल के रिकॉर्ड लेवल पर पहुंच गया। सीएमआईई की जनवरी में जारी रिपोर्ट में कहा गया था कि 2018 में करीब 1.1 करोड़ लोग बेरोजगार हो गए।

गौरतलब है कि पीएम मोदी के पकौड़ा वाले बयान की विपक्ष ने कड़ी निंदा की थी और उनका यह बयान सोशल मीडिया पर भी खूब ट्रोल हुआ था। इस मामले पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा था, “यह बहुत दुखी करने वाला है कि पीएम मोदी मेक इन इंडिया और स्टार्ट अप इंडिया जैसी महत्वाकांक्षी योजनाओं की बात करते हैं और देश के युवाओं को पकौड़ा बेचने की सलाह देते हैं।”

बता दें कि बीजेपी उम्मीदवार किरण खेर, कांग्रेस प्रत्याशी और पूर्व केंद्रीय मंत्री पवन कुमार बंसल के खिलाफ चंडीगढ़ सीट से मैदान में हैं। यहां 19 मई को मतदान होना है।

Published: 15 May 2019, 4:00 PM
लोकप्रिय