संसद सत्र से पहले किसानों की मांगों पर फैसला करें प्रधानमंत्री, संयुक्त किसान मोर्चा के साथ बुलाएं बैठकः येचुरी

सीताराम येचुरी ने कहा कि संयुक्त किसान मोर्चा ने प्रधानमंत्री मोदी को एक खुला पत्र लिखा था, जिसमें अपनी मांगों का जिक्र किया था। ऐसे में सरकार को किसानों की मांगों पर उनसे वार्ता करनी चाहिए। उम्मीद है कि सरकार अपने वचन को जल्द से जल्द और पूरी तरह निभाएगी।

फाइल फोटोः IANS
फाइल फोटोः IANS
user

नवजीवन डेस्क

भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्‍सवादी) के नेता सीताराम येचुरी ने प्रधानमंत्री मोदी को संयुक्त किसान मोर्चा के साथ तुरंत बैठक बुलाने की मांग की है। पूर्व राज्यसभा सांसद येचुरी ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी को किसानों की मांगों को संसद सत्र से पहले सुनना चाहिए। ताकि सही फैसला लिया जा सके।

सीताराम येचुरी ने कहा कि संयुक्त किसान मोर्चा ने प्रधानमंत्री मोदी को एक खुला पत्र लिखा था। जिसमें किसानों ने केंद्र सरकार से अपनी मांगों का जिक्र किया था। किसान मोर्चा ने इस पत्र में लिखा है कि 11 राउंड वार्ता के बाद आपने द्विपक्षीय समाधान की बजाय एकतरफा घोषणा का रास्ता चुना, लेकिन हमें खुशी है कि आपने इन तीनों कृषि कानूनों को वापस लेने की घोषणा कर दी है। हम उम्मीद करते हैं कि आपकी सरकार इस वचन को जल्द से जल्द और पूरी तरह निभाएगी। ऐसे में सरकार को किसानों की मांगों पर उनसे वार्ता करनी चाहिए।


गौरतलब है कि प्रधानमंत्री मोदी ने देश के नाम अपने संबोधन में कहा था कि उनकी सरकार तीनों कृषि कानूनों को वापस लेने का फैसला करती है। उन्होंने कहा कि इस महीने के अंत में शुरू होने जा रहे संसद सत्र में तीनों कृषि कानूनों को वापस लेने की संवैधानिक प्रक्रिया को शुरू करेंगे। उन्होंने किसानों से आंदोलन खत्म करने की अपील भी की थी।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia