‘आत्मनिर्भर’ का नारा देकर चुप हो गई सरकार, लॉकडाउन में भूख-बेरोजगारी की मार, अनलॉक में मरीज हो गए 3 लाख के पार

देश में कोरोना संक्रमित मरीजों की तादाद 3 लाख का आंकड़ा पार कर चुकी है। इस बीच एक महीने पहले आत्मनिर्भर का नारा देने के बाद से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चुप हैं, स्वास्थ्य मंत्रालय ने प्रेस कांफ्रेंस बंद कर दी है। हालत यह है कि सिर्फ 11 दिन में एक लाख नए मरीज सामने आ गए हैं।

फोटो : सोशल मीडिया
फोटो : सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

कोरोना तेजी से पैर पसार रहा है। देश में औसतन हर रोज 12 हजार से ज्यादा केस सामने आ रहे हैं। और 3 लाख से ज्यादा कोरोना संक्रमित मरीजों के साथ भारत दुनिया में चौथा सबसे ज्यादा कोरोना प्रभावित देश बन चुका है। इस पूरे मामले में कुछ बिंदुओं को देखना जरूरी है:

  • 12 मई के बाद से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के नाम कोई संबोधन नहीं किया है। उन्होंने आत्मनिर्भर भारत का नारा देकर अपना पल्ला झाड़ लिया है। यानी देश वासियों को अब खुद ही अपनी हिफाजत करने को कह दिया है।
  • स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने भी 11 मई के बाद से कोई प्रेस कांफ्रेंस नहीं की है। यानी मोदी सरकार का स्वास्थ्य मंत्रालय सीधे सामने आकर कुछ कहने की स्थिति में नहीं है
  • स्वास्थ्य सचिव द्वारा प्रतिदिन की जाने वाली प्रेस ब्रीफिंग भी बंद हो चुकी है और आईसीएमआर ने भी प्रेस कांफ्रेंस में आना बंद कर दिया है
  • दिल्ली की हालत खराब है, शुक्रवार को तो 2000 से ज्यादा केस सामने आए। रोचक है कि बिना लक्षणों के कोरोना टेस्ट न करने की बात कहने वाले दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मामूली लक्षण होने पर ही अपना टेस्ट सबसे पहले कराया।
  • इससे भी ज्यादा रोचक यह है कि आम तौर पर कोरोना टेस्ट का नतीजा आने में लगने वाले 10-11 दिन के बजाए केजरीवाल के टेस्ट का नतीजा मात्र 6 घंटे में आ गया
  • गौरतलब है कि रेड ज़ोन में होने के बावजूद दिल्ली की आम आदमी पार्टी सरकार ने शराब की दुकानें यह कहकर खोल दी थीं कि हालात नियंत्रण में हैं। लेकिन जब दिल्ली के उपराज्यपाल ने आदेश जारी किए तो एक ही दिन में दिल्ली सरकार ने कहना शुरु कर दिया कि जुलाई आते-आते दिल्ली में 5.5 लाख कोरोना केस हो जाएंगे। साथ ही दिल्ली और केंद्र सरकार के बीच आरोप-प्रत्यारोप का खेल फिर शुरु हो गया
  • यह भी रोचक है कि कोरोना संक्रमित आम लोगों को अस्पतालों में भर्ती करने से इनकार किया जा रहा है और वह दर-दर की ठोकरें खा रहा है, लेकिन सिर्फ मामूली लक्षण दिखने पर बीजेपी नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया और उनकी मां को एक बड़ा निजी अस्पताल तुरत-फुरत भर्ती कर लेता है
  • केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह कोरोना मामले पर खामोश हैं, लेकिन बंगाल में चुनाव को लेकर प्रचार में दहाड़ रहे हैं

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


/* */