नीतीश सरकार में जहरीली शराब का कहर: मुजफ्फरपुर में 6 से ज्यादा लोगों की मौत मामले में 2 केस दर्ज, 33 नामजद

मुजफ्फरपुर के रूपौली में जहरीली शराब से हुई मौतों को लेकर दर्ज प्राथमिकी में 20 को नामजद और अन्य अज्ञात लोगों को आरोपी बनाया गया है जबकि सिउड़ी में हुई मौतों के लिए अलग दर्ज प्राथमिकी में 13 लोगों को नामजद और अन्य अज्ञात लोगों को आरोपी बनाया गया है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

बिहार के मुजफ्फरपुर जिले में पिछले सप्ताह जहरीली शराब पीने से आधा दर्जन लोगों की मौत के मामले में दो अलग-अलग मामले दर्ज कराए गए हैं। इस मामले में अब तक छह लोगों को गिरफ्तार किया गया है जबकि कई लोगों को हिरासत में लेकर पुलिस पूछताछ कर रही है। पुलिस के एक अधिकारी ने सोमवार को बताया कि रविवार को सरैया थाना के निलंबित थाना प्रभारी कमालुद्दीन के बयान पर दो अलग-अलग प्राथमिकी दर्ज किए गए हैं।

उन्होंने बताया कि रूपौली में हुई मौतों को लेकर दर्ज प्राथमिकी में 20 को नामजद और अन्य अज्ञात लोगों को आरोपी बनाया गया है जबकि सिउड़ी में हुई मौतों के लिए अलग दर्ज प्राथमिकी में 13 लोगों को नामजद और अन्य अज्ञात लोगों को आरोपी बनाया गया है।

अनुमंडल पुलिस अधिकारी (एसडीपीओ) राजेश शर्मा ने बताया कि दो अलग-अलग दर्ज प्राथमिकी के आलोक में अब तक छह लोगों को गिरफ्तार किया गया है। अन्य आरोपियों को गिरफ्तार करने के लिए छापेमारी की जा रही है। उन्होंने बताया कि कुछ लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है।


इस बीच, इन इलाकों में पुलिस द्वारा शराब कारोबार को लेकर लगातार छापेमारी की जा रही है। इधर, सूत्रों का कहना है कि अभी भी कई पीड़ित लोगों को इलाज चल रहा है।

गौरतलब है कि पंचायत चुनाव में एक प्रत्याशी के विजय होने के बाद शराब पार्टी का आयोजन किया गया था, जिसमें कई लोगों ने शराब पी थी। इसके बाद लोगों की तबियत खराब होने लगी थी। घटनास्थल से पुलिस ने शराब की बोतलें और कुछ होम्योपैथिक दवाएं भी बरामद की थी।

उल्लेखनीय है कि बिहार में पूर्ण शराबबंदी है, लेकिन प्रतिदिन किसी न किसी जिले से शराब बरामदगी की खबर आती है।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia