इंदौर में बीजेपी की यात्रा को अनुमति, पर गणेश उत्सव पर रोक, कांग्रेस ने किया विरोध तो पुलिस ने बरसाई लाठियां

पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने पुलिस कार्रवाई की निंदा करते हुए कहा कि इंदौर में बीजेपी की जनआशीर्वाद को खुली छूट, लेकिन आज गणेश उत्सव जैसे प्रमुख धार्मिक पर्व मनाने की अनुमति के लिए हजारों कांग्रेसजनों द्वारा निकाली गई मौन पैदल रैली पर जमकर लाठीचार्ज और बरर्बरता की गई।

फोटोः @INCMP
फोटोः @INCMP
user

नवजीवन डेस्क

मध्य प्रदेश के इंदौर में राजनीतिक यात्राएं निकालने की छूट देने और गणेश उत्सव के मौके पर झांकी पर लगी रोक हटाने की मांग को लेकर बुधवार को कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने सड़क पर उतरकर भारी विरोध प्रदर्शन किया। महाराज वाड़े से मौन रेली निकालते हुए कांग्रेस कार्यकर्ता जैसे ही कलेक्टर ऑफिस पहुंचे तो पुलिस ने उन पर बल प्रयोग किया।

पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष कमल नाथ ने पुलिस की इस कार्रवाई की निंदा करते हुए कहा कि प्रदेश के इंदौर में बीजेपी की जनआशीर्वाद को खुली छूट, बीच रास्तों पर सैकड़ों मंच, स्वागत द्वार, प्रमुख मार्गों पर घंटो जाम, तमाम नियमों की धज्जियां उड़ायी गईं और वहीं आज गणेश उत्सव, डोल ग्यारस, गोगा देव नवमी, अनंत चतुर्दशी, पर्युषण पर्व, नवरात्रि, ईद, दशहरा, दीपावली, गुरु नानक जयंती, क्रिसमस, जैसे प्रमुख धार्मिक पर्वों को मनाने की अनुमति देने की मांग को लेकर इंदौर में हजारों कांग्रेसजनों द्वारा निकाली गई मौन पैदल रैली पर जमकर लाठीचार्ज, वाटर कैनन का उपयोग, बर्बरता और दमन है।


दरअसल मध्य प्रदेश में कोरोना महामारी के कारण सार्वजनिक, धार्मिक और राजनीतिक कार्यक्रमों के आयोजनों पर रोक लगी हुई है। केवल सीमित संख्या में ही लोग इन आयोजनों में हिस्सेदारी कर सकते हैं, मगर इंदौर समेत पूरे सूबे में बीजेपी की जनआशीर्वाद यात्रा निकाली गई, जिस पर सवाल उठाते हुए कांग्रेस ने भी राजनीतिक यात्रा निकालने की छूट देने की मांग करते हुए गणेश उत्सव की झांकी पर रोक लगाने का पुरजोर विरोध किया।

बुधवार को कांग्रेस कार्यकर्ता अपने नेताओं के नेतृत्व में राजवाड़े पर जमा हुए और उन्होंने प्रदर्शन किया। प्रदर्षनकारी अपने हाथों में प्रशासन और सरकार के खिलाफ लिखे नारों वाली तख्तियां लिए हुए थे। वहीं कई कार्यकर्ता केसरिया रंग के कपड़े पहने थे। इन प्रदर्शनकारियों ने राजवाड़े से कलेक्टर ऑफिस जाने की कोशिश की तो पुलिस ने पहले उन्हें रोका, लेकिन जब वे नहीं माने तो पुलिस ने पहले वाटर कैनन से पानी की बौछार की और फिर जमकर लाठियां भी भांजीं।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;