प्रज्ञा ठाकुर ने लोकसभा में गोडसे को बताया देशभक्त, विपक्ष का हंगामा, अब क्या कहेंगे प्रधानमंत्री?

बीजेपी सांसद प्रज्ञा ठाकुर ने एक बार फिर महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे को देशभक्त कहा है। और इस बार किसी जनसभा या इंटरव्यू में नहीं, बल्कि लोकतंत्र के मंदिर संसद में उन्होंने यह बात कही।

फोटो : सोशल मीडिया
फोटो : सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक बार कहा था कि नाथूराम गोडसे वाले बयान के लिए उन्होंने बीजेपी सांसद प्रज्ञा ठाकुर को दिल से माफ नहीं किया है। अब देखना है कि प्रधानमंत्री इस बार क्या कहते हैं, क्योंकि बीजेपी की इस सांसद ने एक बार फिर नाथूराम गोडसे को देशभक्त कहा है। इस बार उन्होंने लोकसभा में एक बहस के दौरान गोडसे को देशभक्त की संज्ञा दी।

प्रज्ञा ठाकुर के इस कथन के बाद लोकसभा में हंगामा खड़ा हो गया और गांधी जी के हत्यारे को देशभक्त कहने पर विपक्ष गुस्से में आ गया। हुआ दरअसल यह कि लोकसभा में एसपीजी संशोधन बिल पर बहस के दौरान डीएमके नेता ए राजा ने गोडसे के उस कथन का जिक्र किया जिसमें उसने कहा था कि उनसे महात्मा गांधी की हत्या क्यों की। इसी दौरान प्रज्ञा ठाकुर ने बीच में टोकते हुए कहा कि “आप एक देशभक्त का उदाहरण नहीं दे सकते।” राजा ने कहा कि गोडसे ने खुद स्वीकार किया था उसे महात्मा गांधी से बैर था जिसके बाद उसने उनकी हत्या करने का निश्चय किया था। राजा ने कहा कि गोडसे एक खास विचारधारा का व्यक्ति था इसीलिए उसने महात्मा गांधी की हत्या कर दी।

प्रज्ञा ठाकुर के इस बयान पर जहां समूचा विपक्ष उनसे माफी मांगने क बात कर रहा था, वहीं बीजेपी सांसदों ने प्रज्ञा ठाकुर के बैठने के लिए कहा।

कांग्रेस ने प्रज्ञा ठाकुर के इस बयान की निंदा की है। पार्टी ने कहा है कि इससे बीजेपी की मानसिकता और विचारधारा परिलक्षित होती है। कांग्रेस ने कहा कि इससे स्पष्ट होता है कि बीजेपी किस तरह नफरत की राजनीति करती है। साथ ही कांग्रेस ने प्रधानमंत्री से सवाल पूछा है कि क्या वे इस बयान की निंदा करेंगा या हमेशा की तरह चुप रहेंगे?

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


लोकप्रिय