प्रज्ञा के गोडसे को देशभक्त बताने पर बैकफूट पर बीजेपी, बयान से किया किनारा, कांग्रेस बोली- ये बापू का अपमान

कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि मोदी और अमित शाह जी की चहेती बीजेपी नेता प्रज्ञा ठाकुर ने एक बार फिर महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे को सच्चा देशभक्त बता पूरे देश का अपमान किया है।

फोटो: सोशल मीडिया 
फोटो: सोशल मीडिया

नवजीवन डेस्क

भोपाल से बीजेपी प्रत्याशी प्रज्ञा ठाकुर द्वारा महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे को देशभक्त कहने पर कांग्रेस ने कड़ी प्रतिक्रिया दी है। दिल्ली के कांग्रेस मुख्यालय में प्रेस से बात करते हुए पार्टी प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा, “मोदी और अमित शाह जी की चहेती बीजेपी नेता प्रज्ञा ठाकुर ने एक बार फिर महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे को सच्चा देशभक्त बता पूरे देश का अपमान किया है। बीजेपी के नेता बार-बार राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की सोच, रास्ते और विचारधारा पर हमले बोल रहे हैं। यह भारत के गांधीवादी मूल सिद्धांतों का तिरस्कार करने का घिनौना भाजपाई षड्यंत्र है। यह एक ऐसा अपराध है, जिसे देश कभी माफ नहीं कर सकता। देश के शहीदों, महान वीभूतियों का अपमान अब बीजेपी की संस्कृति बन गया है।”

सुरजेवाला ने कहा, “आज एक बात साफ हो गई कि बीजेपी वाले ही गोडसे के असली वंसज हैं। बीजेपी के लोग गोडसे को सच्चा देशभक्त और हेमंत करकरे जैसे शहीदों को देशद्रोही बताते हैं। हिंसा की संस्कृति और शहीदों का अपमान बीजेपी का डीएनए है।”

कांग्रेस नेता ने कहा, “प्रज्ञा के बयान से आज फिर देश की आत्मा छलनी हो गई, बीजेपी का हिंसक चेहरा बेनकाब हो गया, गोडसे के वंसजों का असली चेहरा उजागर हो गया। बापू की विचारधारा पर बीजेपी ने प्रहार किया। बापू की विचारधारा पर शब्दों की गोलियां चलाई गई हैं।”

सुरजेवाला ने कहा, “प्रज्ञा ठाकुर ने 26/11 मुंबई हमले में शहीद हेमंत करकरे जी को देशद्रोही बताया था और उनके परिवार को श्राप देने का अपराध किया था। प्रज्ञा ठाकुर की उम्मीदवारी वापस लेने की बजाय, प्रज्ञा ठाकुर को दंडित करने की बजाय सीधे देश के प्रधानमंत्री ने प्रज्ञा ठाकुर का बचाव किया था।”

गौरतलब है कि गुरुवार को प्रज्ञा ठाकुर ने कहा कि नाथूराम गोडसे देशभक्त थे, देशभक्त हैं और देशभक्त रहेंगे। उन्होंने आगे कहा कि, “नाथूराम गोडसे को आतंकवादी कहने वाले लोगों को खुद के भीतर देखना चाहिए, ऐसे लोगों को चुनावों में जवाब मिलेगी।”

वहीं प्रज्ञा ठाकुर के बयान पर बीजेपी ने किनारा कर लिया है। बीजेपी प्रवक्ता जीवीएल नरसिम्हा राव ने कहा कि उनके बयान से बीजेपी सहमत नहीं है और इसकी निंदा करती है। पार्टी उनसे इस मामले में सफाई मांगेगी और उनसे सार्वजनिक तौर पर इस कथन के लिए माफी मांगने के लिए कहेगी।

लोकप्रिय