कल अयोध्या में प्राण प्रतिष्ठा, देश के इन राज्यों में छुट्टी नहीं, यहां देखें पूरी लिस्ट

देश और विदेश के 7000 विशिष्ट अतिथियों को अयोध्या के इस कार्यक्रम के लिए न्योता दिया गया है। रविवार सुबह से इन मेहमानों का अयोध्या पहुंचना शुरू भी हो गया है। इनमें करीब 300 वीआईपी मेहमान हैं, जिनकी सुरक्षा के पुख्ता इंतेजाम किए गए हैं।

कल अयोध्या में प्राण प्रतिष्ठा, देश के इन राज्यों में छुट्टी नहीं
कल अयोध्या में प्राण प्रतिष्ठा, देश के इन राज्यों में छुट्टी नहीं
user

नवजीवन डेस्क

उत्तर प्रदेश के अयोध्या में 22 जनवरी यानी सोमवार को राम मंदिर के प्राण प्रतिष्ठा इस कार्यक्रम को ऐतिहासिक और राष्ट्रीय बनाने में बीजेपी ने कोई कसर नहीं छोड़ी है। इसी योजना के तहत देश के कई राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों ने इस दिन राज्य भर में पूरी छुट्टी या आधे दिन की छुट्टी का ऐलान किया गया है। लेकिन कई राज्य ऐसे भी हैं जिन्होंने 22 जनवरी को अपने यहां कोई छुट्टी घोषित नहीं की है।

21 राज्य और केंद्रशासित प्रदेशों में छुट्टी नहीं

देश के कुल 21 राज्य और केंद्रशासित प्रदेशों ने 22 जनवरी को अपने यहां छुट्टी घोषित नहीं की है। जिन राज्यों ने कोई छुट्टी का ऐलान नहीं किया है, उनमें आंध्र प्रदेश, अरुणाचल प्रदेश, बिहार, कर्नाटक, केरल, तमिलनाडु, तेलंगाना, उत्तराखंड, पश्चिम बंगाल, पंजाब, त्रिपुरा, मणिपुर, मेघालय, मिजोरम, नगालैंड, सिक्किम के अलावा अंडमान और निकोबार, दादरा और नगर हवेली और दमन और दीव, लद्दाख, लक्षद्वीप और पुडुचेरी जैसे केंद्रशासित क्षेत्रों के नाम शामिल हैं।


समारोह की तैयारी अंतिम चरण में

दूसरी तरफ, सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हाथों होने वाले राम मंदिर के प्राण प्रतिष्ठा समारोह के आयोजन की तैयारी अंतिम चरण में हैं। कार्यक्रम को वैश्विक और अविस्मरणीय बनाने को लिए देश और विदेश के 7000 विशिष्ट अतिथियों को इस कार्यक्रम के लिए न्योता दिया गया है। रविवार सुबह से इन मेहमानों का अयोध्या पहुंचना शुरू भी हो गया है। इनमें करीब 300 वीआईपी मेहमान हैं, जिनकी सुरक्षा के पुख्ता इंतेजाम किए गए हैं।

पूरी अयोध्या छावनी में तब्दील

इतने भव्य कार्यक्रम के मद्देनजर पूरी अयोध्या को तो छावनी में तब्दील किया ही गया है, साथ ही पूरे उत्तर प्रदेश में सुरक्षा बढ़ाई गई है। अयोध्या की सुरक्षा में ब्लैककैट कमांडोज, बख्तरबंद गाड़ियां और ड्रोन लगाए गए हैं। सरयू नदी में एनडीआरएफ की टीम को तैनात किया गया है। अयोध्या के हर चौराहे पर पुलिस और कमांडो लगे हुए हैं। यूपी पुलिस के तीन डीआईजी को सुरक्षा के लिए तैनात किया गया है। वहीं 17 आईपीएस, 100 पीपीएस, 325 इंस्पेक्टर, 800 सब इंस्पेक्टर और 1000 से अधिक कांस्टेबल को अयोध्या में तैनात किया गया। केवल पुलिस ही नहीं बल्कि निजी सुरक्षा एजेंसियों को भी अयोध्या की सुरक्षा में लगाया गया है।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;