राष्ट्रपति चुनावः NDA की द्रौपदी मुर्मू ने दाखिल किया नामांकन, पीएम मोदी बने प्रस्तावक, BJP के बड़े नेता रहे मौजूद

देश के नए राष्ट्रपति के लिए 18 जुलाई को चुनाव होना है और इसके लिए नामांकन की आखिरी तारीख 29 जून है। वोटों की गिनती 21 जुलाई को होगी। चुनाव में मुख्य मुकाबला एनडीए उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू और विपक्षी दलों के संयुक्त उम्मीदवार यशवंत सिन्हा के बीच होना है।

फोटोः ANI
फोटोः ANI
user

नवजीवन डेस्क

राष्ट्रपति पद के चुनाव के लिए एनडीए की उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू ने आज संसद भवन में अपना नामांकन दाखिल कर दिया। इस दौरान पीएम मोदी, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, गृह मंत्री अमित शाह समेत बीजेपी के तमाम बड़े नेता साथ मौजूद रहे। द्रौपदी मुर्मू के नामांकन में पीएम मोदी खुद प्रस्तावक बने हैं, जबकि राजनाथ सिंह अनुमोदक बने हैं। द्रौपदी मुर्मू के नामांकन के दौरान बीजेपी और एनडीए के कई नेता मौजूद रहे।

द्रौपदी मुर्मू ने चार सेट में अपना नामांकन दाखिल किया है। पहले सेट में पीएम मोदी प्रस्तावक और राजनाथ सिंह अनुमोदक बने हैं। इस सेट में 60 प्रस्तावक और 60 अनुमोदक के नाम हैं। दूसरे सेट में बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा प्रस्तावक हैं। इसमें भी 60 प्रस्तावक और 60 अनुमोदक हैं। इस सेट में योगी, हिमंता बिस्वा सरमा के अलावा बीजेपी और एनडीए के सभी मुख्यमंत्री प्रस्तावक हैं। तीसरा सेट हिमाचल और हरियाणा के विधायकों का है। चौथा सेट गुजरात के विधायकों का है।


इससे पहले केंद्रीय मंत्री प्रल्हाद जोशी के दिल्ली स्थित आधिकारिक आवास पर प्रस्तावक और समर्थक के तौर पर नामांकन पत्र पर हस्ताक्षर किए गए। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री और भाजपा संसदीय बोर्ड के सदस्य शिवराज सिंह चौहान द्रौपदी मुर्मू के नामांकन पत्र में पहले प्रस्तावक बने हैं। उन्होंने स्वयं ट्वीट कर इसकी जानकारी देते हुए कहा, "यह मेरा परम सौभाग्य है कि भारत की जनजातीय समाज की पहली और देश की द्वितीय महिला राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार आदरणीय श्रीमती द्रौपदी मुर्मू जी के नामांकन पत्र में फस्र्ट सेकंडर (प्रथम समर्थक) के रूप में हस्ताक्षर करने का अवसर प्राप्त हुआ।"

द्रौपदी मुर्मू का जन्म ओडिशा के आदिवासी बहुल जिले मयूरभंज के रायरंगपुर गांव में हुआ। द्रौपदी मुर्मू झारखंड की पहली महिला राज्यपाल रह चुकी हैं। वह 18 मई 2015 से 12 जुलाई 2021 तक झारखंड की राज्यपाल रहीं। द्रौपदी मुर्मू 2013 में बीजेपी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी में एसटी मोर्चा की सदस्य रहीं। वह 2013 में ही ओडिशा के मयूरभंज की बीजेपी जिला अध्यक्ष निर्वाचित हुईं थी।

बता दें कि देश के नए राष्ट्रपति के लिए 18 जुलाई को चुनाव होना है और इसके लिए नामांकन की आखिरी तारीख 29 जून है। वोटों की गिनती 21 जुलाई को होगी। चुनाव में मुख्य मुकाबला एनडीए उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू और विपक्षी दलों के संयुक्त उम्मीदवार यशवंत सिन्हा के बीच होना है।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia