मोदी का ‘कल्याण’ करने के चक्कर में फंसे राजस्थान गवर्नर, राष्ट्रपति ने कार्रवाई के लिए सरकार को लिखा पत्र

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने गृह मंत्रालय को पत्र लिखकर राजस्थान के गवर्नर कल्याण सिंह के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए कहा है। कल्याण सिंह द्वारा एक सभा में पीएम मोदी और बीजेपी के पक्ष में बयान देने के मामले में चुनाव आयोग ने राष्ट्रपति को रिपोर्ट सौंपी थी।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

संवैधानिक पद पर रहते हुए बीजेपी और पीएम मोदी को वोट देने की अपील करने वाले बयान पर राजस्थान के राज्यपाल कल्याण सिंह मुश्किल में आ गए हैं। केंद्रीय चुनाव आयोग की रिपोर्ट के आधार पर राष्ट्रपति ने केंद्र सरकार को कल्याण सिंह के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए कहा है। चुनाव आयोग ने राष्ट्रपति को भेजी रिपोर्ट में कल्याण सिंह द्वारा आदर्श आचार संहिता तोड़ने की बात कही थी।

अब राष्ट्रपति के इस पत्र के बाद कल्याण सिंह की कुर्सी जाना तय माना जा रहा है। राष्ट्रपति ने गृह मंत्रालय को भेजे अपने पत्र में साफ कहा है कि कल्याण सिंह के खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए, क्योंकि उन्होंने आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन किया है।

खास बात ये है कि राष्ट्रपति के पत्र के बाद मोदी सरकार के लिए भी परेशानियां बढ़ गई हैं क्योंकि उसे अपने ही प्रधानमंत्री के समर्थन में बोलने, तारीफ करने और उन्हें फिर से प्रधानमंत्री बनाने की अपील करने वाले गवर्नर कल्याण सिंह को सजा देने के लिए कहा गया है।

हालांकि ये देखने वाली बात होगी कि मोदी सरकार गवर्नर कल्याण सिंह से उनकी कुर्सी छीनती है या फिर अपने समर्थक गवर्नर को सजा से बचाने के लिए कोई बीच का रास्ता निकालती है या फिर राष्ट्रपति और चुनाव आयोग द्वारा दोषी ठहराए गए कल्याण सिंह को ऐसे ही छोड़ देती है।

गौरतलब है कि बीते 25 मार्च को राजस्थान के गवर्नर कल्याण सिंह ने उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में सभी भारतीयों को बीजेपी कार्यकर्ता बताया था और कहा था कि “हम सभी बीजेपी कार्यकर्ता हैं और हम चाहते हैं कि बीजेपी ही चुनाव जीते। हम चाहते हैं कि नरेंद्र मोदी पीएम बनें, क्योंकि ये देश के लिए बहुत जरूरी है।

लोकप्रिय