कोरोना महामारी के बीच परीक्षाएं आयोजित करने पर प्रियंका ने साधा निशाना, कहा- फिलहाल रद्द या रीशेड्यूल कर देना चाहिए

कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी ने कोरोना महामारी के बीच सीबीएसई द्वारा आयोजित की जा रहे परीक्षाओं को लेकर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि बोर्ड परीक्षाओं को फिलहाल रद्द या रीशेड्यूल कर देना चाहिए। या फिर ऐसे तरीके से परीक्षाएं करानी चाहिए कि छात्र भीड़ वाले परीक्षा केंद्रों में जाने से बचें।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

आईएएनएस

देश में एक बार कोरोना के बढ़ते मामलों ने लोगों के मन में डर का माहौल बना दिया है और महामारी के बीच शुरू हो रही परीक्षाओं को लेकर अब राजनीति भी तेज हो गई है। कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी ने कोरोना महामारी के बीच सीबीएसई द्वारा आयोजित की जा रहे परीक्षाओं को लेकर निशाना साधा है। उन्होंने ट्वीट कर कहा, "मौजूदा हालात को देखते हुए सीबीएसई जैसे बोर्ड को छात्रों को ऑफलाइन परीक्षा (सेंटर पर जाकर परीक्षा) देने के लिए मजबूर करना गलत है। बोर्ड परीक्षाओं को फिलहाल रद्द या रीशेड्यूल कर देना चाहिए। या फिर ऐसे तरीके से परीक्षाएं करानी चाहिए कि छात्र भीड़ वाले परीक्षा केंद्रों में जाने से बचें।"

उनकी यह टिप्पणी सीबीएसई और काउंसिल फॉर द इंडियन स्कूल सर्टिफिकेट एग्जामिनेशन (सीआईएससीई) द्वारा यह कहने के बाद आई है कि छात्रों के लिए पर्याप्त सुरक्षा व्यवस्था की जा रही है और परीक्षा के दौरान कोविड-19 दिशानिर्देशों का पालन किया जाएगा।

बता दें कि कोरोना महामारी के बीच परीक्षा आयोजित करने पर बुधवार और गुरुवार को ट्विटर पर 'कैंसिल बोर्ड एग्जाम' ट्रेंड हुआ था।

गौरतलब है कि देश में कोरोनावायरस को लेकर स्थिति हर गुजरते दिन के साथ बिगड़ती जा रही है। यहां पिछले 24 घंटों में संक्रमण के 1,31,968 नए मामले और 780 मौतें दर्ज हुई हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय ने शुक्रवार को कहा कि देश में सक्रिय मामलों की संख्या 9,79,608 हो गई है और भारत कोरोना से बुरी तरह प्रभावित देशों में दुनिया में चौथे नंबर पर आ गया है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा है कि मरने वालों की कुल संख्या बढ़कर 1,67,642 हो गई है।

पिछले 24 घंटों में कुल 61,899 मरीज ठीक हुए हैं, इसके साथ ही अब तक ठीक हुए कुल मरीजों की संख्या 1,19,13,292 हो गई है। वहीं रिकवरी दर 91.22 प्रतिशत हो गई है।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


लोकप्रिय