प्रियंका गांधी ने नोएडा में पंखुड़ी पाठक के लिए किया कैंपेन, कहा- सांप्रदायिकता से पार्टियों का लाभ, जनता का नहीं

प्रियंका गांधी ने कहा कि तमाम राजनीतिक पार्टियां सिर्फ इधर-उधर की बात कर रही हैं। युवाओं के भविष्य की बात नहीं कर रही हैं और न ही विकास की बात कर रही हैं। जातिवाद और साप्रदायिकता फैलाने से सिर्फ राजनीतिक दलों को लाभ होता है। जनता का इससे कोई फायदा नहीं है।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव को लेकर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी आज नोएडा में पार्टी प्रत्याशी पंखुड़ी पाठक के लिए कैम्पेन करने पहुंचीं। इस दौरान उन्होंने डोर-टू-डोर कैंपेन भी किया। इस दौरान प्रदेश की योगी सरकार पर हमला बोलते हुए उन्होंने कहा कि बीजेपी सरकार 80-20 फीसदी की बात कर रही है, लेकिन सरकार यह क्यों नहीं बता रही कि कितने फीसदी युवा बेरोजगार बैठे हुए हैं? शिक्षा के बजट में जितने फीसदी पैसे खर्च हुए हैं वो पहले से कम क्यों हो गए हैं? कितना फीसदी पैसा सेहत की सुविधाओं पर खर्च करेंगे?

प्रियंका गांधी ने कहा कि जातिवाद और साम्प्रदायिकता फैलाने से सिर्फ राजनीतिक पार्टियों को फायदा होता है। जनता का इससे कोई फायदा नहीं है। जनता हर नेता को जवाबदेह बनाए और उनसे अपनी परेशानियों को लेकर सवाल पूछें। सबसे आग्रह करना चाहती हूं कि इस चुनाव को अपने लिए बनाइये।

इस दौरान प्रियंका गांधी ने कहा कि रेलवे एनटीपीसी के छात्र परेशान हैं उनपर लाठियां बरसाई जा रही हैं, लेकिन कोई उनकी बात नहीं सुन रहा है। दो साल से यूपी में काम कर रही हूं। मैंने बार-बार देखा है जब परीक्षा आती है तो रद्द हो जाती है या फिर पेपर लीक हो जाते हैं, परीक्षा होने के बाद कट ऑफ बदल जाती हैं।

उन्होंने आगे कहा कि, तमाम युवा ऐसे हैं जिनके करियर बर्बाद हो चुके हैं। जो सालों से इंतजार कर रहे हैं कि परीक्षा दी है तो नौकरी मिलेगी, पर बार-बार घोटाला किए जा रहे हैं, जब वह आवाज उठा रहे हैं तो आप पीट रहे हैं। युवाओं पर ऐसी-ऐसी धाराएं लगाई जा रही हैं कि जेल चले जाते हैं, बाद में यूनिवर्सिटी नहीं जा सकते हैं। हमने इन समस्याओं को सुलझाने के लिए एक विधान बनाया है। इनको पढ़ें, क्योंकि हम ठोस बात कर रहें है इधर उधर की बात नहीं कर रहे।


प्रियंका गांधी ने आगे बताया कि तमाम राजनीतिक पार्टियां सिर्फ इधर-उधर की बात कर रही हैं। युवाओं के भविष्य की बात नहीं कर रहे हैं और न ही विकास की बात कर रहे हैं। हम कह रहे हैं कि विकास की बात होनी चाहिए। हमने नौजवानों के लिए घोषणा पत्र निकाला है। सभी बोल देते हैं 20 लाख नौकरी देंगे, लेकिन यह रोजगार आएंगे कैसे, इसके बारे में नहीं बताते।

कांग्रेस ने यह तय किया है कि हम युवाओं को बताएंगे कि यह रोजगार कैसे आएंगे। 12 लाख रोजगार सरकार में खाली पड़े हैं। हम किस तरह से भरेंगे, यदि आप अपना छोटा व्यापार शुरू करना चाहते हैं तो सरकार किस तरह आपकी मदद करेगी। हम यह बताएंगे।

पिछली बार नोएडा में कैम्पेन के दौरान कांग्रेस के खिलाफ मुकदमा हुआ, आप मानसिक रूप से इसके लिए तैयार हैं? इस सवाल के जवाब में प्रियंका ने कहा कि जबसे मैं यूपी में काम कर रही हूं तब से मैं मानसिक रूप से तैयार हूं आप मुकदमा करिए, हिरासत में लीजिए, जेल में डाल दें, हम लड़ते रहेंगे। विपक्ष आपको शून्य से आकलन कर रहा है? इस सवाल के जवाब में प्रियंका गांधी ने कहा कि, करने दीजिए, हम हर सीट पर लड़ रहे हैं। हम संघर्ष कर रहे हैं और हम करेंगे।

उत्तर प्रदेश में 7 चरणों में चुनाव होंगे। यूपी में इन चरणों के तहत 10 फरवरी, 14 फरवरी, 20 फरवरी, 23 फरवरी, 27 फरवरी, 3 मार्च और 7 मार्च को मतदान होगा। 10 मार्च को चुनाव के नतीजे आएंगे। साथ ही इस बार भी चुनाव पिछली बार की तरह पश्चिमी उत्तर प्रदेश के जिलों से शुरू होगा और धीरे-धीरे कारवां बढ़ते हुए पूर्वी उत्तर प्रदेश में जाकर समाप्त होगा। पहले चरण में 58 और आखिरी चरण में 64 विधानसभा सीटों में वोटिंग होगी।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia