योगी सरकार ने किया जांच का मॉक ड्रिल, प्रियंका गांधी ने आगरा के अस्पताल को क्लीन चिट देने पर उठाया सवाल

बीते दिनों वायरल हुए एक वीडियो में अस्पताल के मालिक को यह स्वीकार करते हुए देखा गया था कि अस्पताल में ऑक्सीजन की कमी के मॉक ड्रिल के दौरान ऑक्सीजन की आपूर्ति में कटौती होने के चलते 22 मरीजों की मौत हो गई थी। हंगामा मचने पर अस्पताल को सील कर दिया गया था।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने उत्तर प्रदेश के आगरा के एक निजी अस्पताल को कथित मॉकड्रिल में ऑक्सीजन की कमी से कई लोगों की मौत के मामले में क्लीन चिट देने के योगी सरकार के फैसले की खींचाई की है। उन्होंने कहा कि सरकार ने न्याय के सारे दरवाजे बंद कर दिए हैं।

कांग्रेस की यूपी प्रभारी प्रियंका ने ट्वीट करते हुए कहा, "कैसी विडंबना है। रिपोर्ट्स के मुताबिक आगरा के एक अस्पताल ने कथित तौर पर ऑक्सीजन सप्लाई में कटौती कर मॉक ड्रिल की और बीजेपी सरकार ने जांच का मॉक ड्रिल करते हुए अस्पताल को क्लीन चिट दे दी। सरकार और अस्पताल के रास्ते साफ कर दिए गए हैं। सरकार ने मरीज के परिजनों की शिकायत नहीं सुन कर न्याय की सारी उम्मीदें बंद कर दी हैं।"


प्रियंका ने इस ट्वीट के साथ उस रिपोर्ट को भी अटैच किया, जिसमें पीस अस्पताल को क्लीन चिट दिए जाने का दावा किया गया है, जो एक वीडियो के वायरल होने के बाद विवाद में फंस गया था। उक्त वीडियो में एक शख्स को ऑक्सीजन सप्लाई रोकने के मॉक ड्रिल में कई मरीजों की मौत का दावा करते हुए सुना जा सकता है।

बता दें कि बीते दिनों सोशल मीडिया पर वायरल हुए एक वीडियो में अस्पताल के मालिक को यह स्वीकार करते हुए देखा गया था कि अस्पताल में ऑक्सीजन की कमी के मॉक ड्रिल के दौरान ऑक्सीजन की आपूर्ति में कटौती होने के चलते 22 मरीजों की मौत हो गई थी। हंगामा मचने पर आगरा प्रशासन ने केस दर्ज करते हुए अस्पताल को सील कर दिया था।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia