मणिपुर में 4 लोगों की हत्या पर प्रियंका गांधी ने उठाए सवाल, पूछा- 'यह सिलसिला कब रुकेगा?'

प्रियंका गांधी ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एक्स पर कहा, ''मणिपुर में चार लोगों की हत्या कर दी गई। कई लोग घायल हैं, कई जिलों में कर्फ्यू है। आठ महीने से मणिपुर के लोग हत्या, हिंसा और तबाही झेल रहे हैं। यह सिलसिला कब रुकेगा?''

प्रियंका गांधी
प्रियंका गांधी
user

नवजीवन डेस्क

मणिपुर में हिंसा की आग बुझने का नाम नहीं ले रही। कुछ दिन थोड़ी शांति जरूर रहती है लेकिन फिर से कोई बड़ी घटना हो जाती है। 2024 की शुरुआत भी हिंसा के साथ हुई। दरअसल 1 जनवरी को थोउबल जिले के लिलोंग चिंगजाओ इलाके में अज्ञात हमलावरों के गोली मारने से चार लोगों की मौत हो गई। इलाके में घटना के दूसरे दिन मंगलवार (2 जनवरी) को हालात शांत, लेकिन तनावपूर्ण रहे। सुरक्षा के मद्देनजर लिलोंग चिंगजाओ में अतिरिक्त सुरक्षाबल तैनात कर दिए गए हैं। इस घटना को लेकर कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी ने मोदी सरकार पर हमला बोला है। साथ ही उन्होंने केंद्र सरकार से सवाल भी किए हैं।

प्रियंका गांधी ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एक्स पर कहा, ''मणिपुर में चार लोगों की हत्या कर दी गई। कई लोग घायल हैं, कई जिलों में कर्फ्यू है। आठ महीने से मणिपुर के लोग हत्या, हिंसा और तबाही झेल रहे हैं। यह सिलसिला कब रुकेगा?''

कांग्रेस नेता ने कहा, ''मणिपुर की सभी पार्टियों के नेताओं के संयुक्त प्रतिनिधिमंडल ने दिल्ली आकर प्रधानमंत्री से मिलने का समय मांगा था, लेकिन उन्होंने आज तक समय नहीं दिया। न वे मणिपुर गए, न मणिपुर के बारे में बात की, न संसद में जवाब दिया, न कोई एक्शन लिया।''

 उन्होंने कहा कि क्या मणिपुर को यही नेतृत्व चाहिए या विज्ञापनों की ताकत महान बताने के लिए पर्याप्त है। प्रियंका ने आगे कहा कि सरकार को अब बिना देर किए मणिपुर के सभी पक्षों से बातचीत करके, उन्हें विश्वास में लेकर, स्थिरता और शांति लाने के लिए ठोस कदम उठाने शुरू करने चाहिए।


बता दें कि 2024 के पहले ही दिन सोमवार को मणिपुर के थोउबल जिले के अल्पसंख्यक बहुल लिलोंग चिंगजाओ इलाके में अज्ञात हमलावरों ने गोली मारकर चार ग्रामीणों की हत्या कर दी थी। वहीं, गंभीर रूप से घायल दो अन्य व्यक्ति इंफाल के अस्पताल में आईसीयू में भर्ती हैं।

स्थानीय प्रशासन की ओर से दी गई जानकारी के अनुसार वर्दी में आए अज्ञात बंदूकधारी 1 जनवरी की रात को एक व्यक्ति से पैसे वसूलने के लिए आए थे। इस दौरान विवाद हुआ। उन्होंने बताया कि जब स्थानीय लोग उन्हें खदेड़ रहे थे तो बंदूकधारियों ने अंधाधुंध गोलीबारी शुरू कर दी, जिससे कई लोग हताहत हो गए।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;