CAA: घायल प्रदर्शनकारियों से आजमगढ़ मिलने निकलीं प्रियंका बोलीं- जिन पर जुल्म हो रहा, उनसे मिलना मेरा कर्तव्य

देश भर में नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ हो रहे प्रदर्शन पर कांग्रेस महासचि प्रियंका गांधी ने कहा कि लोकतंत्र में आवाज उठाना जुल्म नहीं है और मेरा कर्तव्य है कि जिनके साथ जुल्म हो रहा है मैं उनके साथ खड़ी हूं।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी आज उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ पहुंचेंगी। नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ रैली में पुलिस द्वारा की गई पिटाई में घायल प्रदर्शनकारियों से मुलाकात करेंगी। इससे पहले प्रियंका गांधी वाराणसी पहुंचीं। वाराणसी पहुंचने पर पार्टी के नेताओं और कार्यकर्ताओं ने उनका जोरदार स्वागत किया। यहां से प्रियंका गाधी आजमगढ़ पहुंचेंगी।

देश भर में नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ हो रहे प्रदर्शन पर कांग्रेस महासचि प्रियंका गांधी ने ट्वीट कर कहा, “लोकतंत्र में आवाज उठाना जुल्म नहीं है और मेरा कर्तव्य है कि जिनके साथ जुल्म हो रहा है मैं उनके साथ खड़ी हूं।”

गौरतलब है कि सीएए के खिलाफ पूरे देश में प्रदर्शन हो रहे हैं। लोग केंद्र की मोदी सरकार से सीएए वापस लिए जाने की मांग कर रहे हैं। कई जगहों पर पुलिस ने प्रदर्शनकारियों के साथ बर्बरता की है। पुलिस द्वार लाठीचाज में कई लोग घायल भी हुए हैं। आजमगढ़ में भी सीएए का जोरदार विरोध हो रहा है। सीएए के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान पुलिस ने प्रदर्शनकारियों की पिटाई की थी, जिसमें कई लोग घायल हो गए थे। प्रियंका गांधी उन्हीं घयालों से मिलने के लिए जा रही हैं।

सीएए के खिलाफ सबसे ज्यादा प्रदर्शन उत्तर प्रदेश में हुए हैं। पुलिस ने कई लोगों को गिरफ्तार किया और उन्हें जेल में बंद कर दिया। कांग्रेस पार्टी ने सीएए का विरोध किया है। प्रदर्शनकारियों पर हुई बर्बरता के खिलाफ कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी लगातार आवाज उठा रही हैं। साथ ही वह खुद घायल प्रदर्शनकारियों से उनके घर मिलने भी जा रही हैं और उन्हें इस बात का अहसास दिला रही हैं कि वह अकेले नहीं हैं, कांग्रेस पार्टी उनके साथ है।

Published: 12 Feb 2020, 11:54 AM
लोकप्रिय
next