अग्निपथ पर बवाल ने थामी ट्रेनों की रफ्तार, रेलवे ने 500 से अधिक ट्रेनों को किया रद्द

अग्निपथ योजना ने कई राज्यों में अभूतपूर्व स्तर का आंदोलन और विरोध खड़ा कर दिया है। योजना का विरोध कर रहे प्रदर्शनकारी ट्रेनों को निशाना बना रहे हैं और उनमें से कई को आग के हवाले कर दिया है। इससे रेलवे को पिछले पांच दिनों में संपत्ति का बड़ा नुकसान हुआ है।

फोटोः IANS
फोटोः IANS
user

नवजीवन डेस्क

मोदी सरकार द्वारा शुरू की गई नई सेना भर्ती योजना अग्निपथ के खिलाफ देश भर में जारी व्यापक विरोध-प्रदर्शन का गहरा असर ट्रेनों के परिचालन पर पड़ा है। पिछले दिनों कई स्टेशनों पर हुई हिंसा और आगजनी को देखते हुए रेलवे ने सोमवार को 529 ट्रेनों को रद्द कर दिया है।

रेलवे द्वारा सोमवार को रद्द की गई 529 ट्रेनों में से 181 मेल/एक्सप्रेस ट्रेनें थीं और 348 यात्री ट्रेनें थीं। इनके अलावा रेलवे ने 4 मेल एक्सप्रेस और 6 पैसेंजर ट्रेनों को भी आंशिक रूप से रद्द किया है। उत्तर रेलवे ने कहा कि 71 दिल्ली जाने वाली कम्यूटर ट्रेनें (वापसी सेवाओं सहित) और विभिन्न उत्तरी रेलवे टर्मिनलों से निर्धारित 18 पूर्व की ओर जाने वाली ट्रेन सेवाओं को रद्द कर दिया गया।


सरकार द्वारा एक ऐतिहासिक और परिवर्तनकारी उपाय कही जाने वाली अग्निपथ योजना ने पूरे भारत में कई राज्यों में अभूतपूर्व स्तर के आंदोलन और विरोध को खड़ा कर दिया है। योजना का विरोध कर रहे प्रदर्शनकारी ट्रेनों को निशाना बना रहे हैं और उनमें से कई को आग के हवाले कर दिया है। इससे रेलवे को पिछले पांच दिनों में संपत्ति का बड़ा नुकसान हुआ है।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia