पुलवामा आतंकी हमला, अखिलेश यादव का पीएम पर हमला, कहा- बुलेट ट्रेन नहीं, जवानों को बुलेटप्रूफ जैकेट की जरूरत

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में 14 फरवरी को सीआरपीएफ के काफिले पर हुए आतंकी हमले में 49 जवान शहीद हो गए थे। इस घटना को लेकर समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने पीएम मोदी की बुलेट ट्रेन योजना पर तंज कसा है।

फोटो: सोशल मीडिया 
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि आज देश को बुलेट ट्रेन की जरूरत नहीं है बल्कि जवानों के पास बुलट प्रूफ जैकेट होना अनिवार्य है। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान को सबक सिखाने के लिए सरकार को ठोस कदम उठाना चाहिए। देश की सीमाएं सुरक्षित रहेंगी और देश सुरक्षित रहेगा, तभी देश में खुशहाली आएगी।

अखिलेश यादव ने आगे कहा, “केंद्र सरकार इतने दिन चलने के बाद भी इंटेलिजेंस को सक्षम क्यों नहीं बना पाई। देश में लोकसभा का चुनाव भी होना है, सीमाओं की सुरक्षा भी होनी है। देश की सुरक्षा सबसे जरूरी है। सरकार बताए कि वह क्या कर रही है। उन्होंने कहा कि पूरा देश फौज के साथ है।”

उन्होंने आगे कहा, “कश्मीर में सुरक्षाबलों पर हो रहे हमलों को लेकर पाकिस्तान को सबक सिखाने पर पूरे देश की जनता, सारी पार्टियां, सब लोग एकजुट होकर सरकार के साथ हैं। सीआरपीएफ जवानों के साथ घटी घटना में इंटेलिजेंस फेलियर का मामला सामने आ रहा है। इसके लिए कौन जिम्मेदार है।”

उन्होंने आगे कहा, “सीआरपीएफ जवानों के साथ घटी घटना के बाद भी भाजपा द्वारा लगातार चुनावी रैलियां किए जाने के सवाल पर अखिलेश ने कहा कि अगर हर पार्टी ने अपना कार्यक्रम रोका है, तो सत्ताधारी पार्टी को भी अपने कार्यक्रम रोककर देश की सीमाओं के बारे में सोचना चाहिए।” अखिलेश यादव ने एक अन्य सवाल के जवाब में कहा कि जवानों के परिजनों को यह जो 25 लाख रुपये मिल रहे हैं वह भी समाजवादी सरकार में शुरू हुई थी। उन्होंने कहा कि यूपी सरकार को भी अन्य प्रदेशों की सरकारों से सीखना चाहिए और जवानों के परिजनों की और मदद के लिए आगे आना चाहिए।

बता दें कि जम्मू-कश्मीर में सीआरपीएफ के काफिले पर गुरुवार को हुए आत्मघाती हमले में चार और जवानों की शुक्रवार को मौत होने के कारण घटना में शहीद होने वालों की कुल संख्या 49 हो गई। गुरुवार को पुलवामा में श्रीनगर-जम्मू राजमार्ग पर सीआरपीएफ के काफिले में जिस बस पर विस्फोटकों से भरी गाड़ी ने टक्कर मारी थी, ये जवान उससे पीछे चल रहे वाहन पर सवार थे।

(आईएएनएस के इनपुट के साथ)

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;