पंजाबः करतारपुर कॉरिडोर खोलने की मांग तेज, सीएम चरणजीत चन्नी ने फिर केंद्र को लिखा पत्र, हरसिमरत ने भी की अपील

पाकिस्तान ने काफी पहले ही करतारपुर गुरुद्वारे को खोल दिया है। करतारपुर गलियारा खुलने की वर्षगांठ पर पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने कहा कि गुरु नानक देव के प्रकाशोत्सव पर हम भारत और दुनिया भर से आने वाले श्रद्धालुओं की मेजबानी के लिए तत्पर और उत्सुक हैं।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया
user

अमरीक

पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह को पत्र लिखकर अपील की है कि कोरोना महामारी के चलते बंद किये गए श्री करतारपुर साहिब गलियारा को गुरु नानक देव जी के प्रकाशोत्सव से पहले खोल दिया जाना चाहिए। पूर्व केंद्रीय मंत्री और शिरोमणि अकाली दल की नेता हरसिमरत कौर बादल ने भी प्रधानमंत्री को पत्र लिखकर श्री करतारपुर गलियारा फिर से खोलने की मांग की है।

सीएम चन्नी ने इस बाबत तीसरा पत्र केंद्र सरकार को भेजा है। इससे पहले उन्होंने 1 अक्टूबर 2021 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उसके बाद 5 अक्टूबर 2021 को केंद्रीय गृहमत्री अमित शाह को अलग-अलग पत्र लिखे थे। इनमें कहा गया था कि श्रद्धालुओं की भावनाओं के मद्देनजर और कोरोना वायरस के हालात में सुधार को देखते हुए भारत को अपनी ओर से गलियारा खोल देना चाहिए। हालांकि इनमें से किसी पत्र का जवाब उन्हें नहीं मिला।


अब 9 नवंबर को लिखे पत्र में मुख्यमंत्री चन्नी ने कहा कि गुरु नानक देव जी के प्रकाश पर्व के पावन अवसर पर करतारपुर कॉरिडोर खोला जाए। यह देश-विदेश के लाखों श्रद्धालुओं की मांग है और उनकी धार्मिक आस्था एवं भावनाओं का सवाल भी है। पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू भी लगातार गलियारा खोलने की पुरजोर मांग कर रहे हैं।

उधर, पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने भी मंगलवार को भारत सरकार से विशेष आग्रह किया कि वह अपनी तरफ से श्री करतारपुर गलियारा फिर से खोल दे। श्री करतारपुर गलियारा खुलने की वर्षगांठ पर पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने कहा कि भारत ने अभी तक अपनी तरफ से कॉरिडोर नहीं खोला है और श्रद्धालुओं को श्री करतारपुर साहिब गुरुद्वारा आने की इजाजत भारत सरकार ने नहीं दी है। मंत्रालय ने कहा कि गुरु नानक देव के जन्मोत्सव पर 17 से 26 नवंबर तक होने वाले समारोहों के लिए हम भारत और दुनिया भर से आने वाले श्रद्धालुओं की मेजबानी के लिए तत्पर और उत्सुक हैं।


गौरतलब है कि 17 से 26 नवंबर तक पाकिस्तान स्थित श्री करतारपुर साहिब गुरुद्वारा में विशेष समागम होंगे और धूमधाम से गुरु पर्व सिलसिलेवार तौर पर मनाया जाएगा। लेकिन भारत सरकार द्वारा कोरोना महामारी के चलते मार्च 2020 में बंद किए गए कॉरिडोर को खोलने का आदेश जारी नहीं किया जा रहा है। केंद्र के इश रवैये पर हजारों सिख श्रद्धालुओं में नाराजगी है।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia