पंजाब में बाहर से आने वालों के लिए 21 दिन का क्वारंटाइन अनिवार्य, कोरोना से बचाव के लिए सरकार का फैसला

सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने प्रवासी मजदूरों से खास तौर पर कहा कि वे पंजाब छोड़कर न जाएं। राज्य सरकार जल्द से जल्द उनकी दुश्वारियां दूर करेगी। साथ ही उन्होंने संकेत दिए कि विशेषज्ञों की रिपोर्ट के बाद सरकार कर्फ्यू और लॉकडाउन में कुछ ढील दे सकती है।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया
user

अमरीक

पंजाब सरकार ने राज्य में कोरोना वायरस की रफ्तार को रोकने के लिए कड़ा कदम उठाते हुए दूसरे राज्यों से आने वाले हर शख्स को अनिवार्य तौर पर 21 दिन के एकांतवास में रखने का आदेश जारी किया है। महाराष्ट्र के नांदेड़ साहिब से पंजाब वापस लौटे श्रद्धालुओं के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद आदेश जारी किया गया है कि आगामी दिनों में आने वाले अन्य श्रद्धालुओं, कोटा (राजस्थान) से आने वाले विद्यार्थियों और दूसरे राज्यों में गए पंजाबी श्रमिकों को सूबे की सरहद पर ही रोककर सरकारी एकांतवास केंद्रों पर भेजा जाए, ताकि 21 दिनों तक ये लोग दूसरों से घुलमिल ना सकें।

कैप्टन अमरिंदर सिंह ने साफ तौर पर कहा कि केंद्र सरकार से ऐसे संकेत मिल रहे हैं कि लॉकडाउन के हालात जुलाई तक जारी रह सकते हैं। मुख्यमंत्री ने यह भी जोर देकर कहा कि तबलीगी जमात के बाद अब नांदेड़ के गुरुद्वारा हजूर साहिब से वापिस आ रहे श्रद्धालुओं के साथ राज्य में कोरोना वायरस के फैलाव का ताजा खतरा मंडरा रहा है। आने वाले दिनों में बाहर के राज्यों में गए पंजाब के लोग जब लौटेंगे, तब यह खतरा ज्यादा गहराएगा। इसलिए राज्य सरकार ने निर्णय लिया है कि आने वाले हर शख्स को एकांतवास में रखा जाए।

प्रदेश लौट रहे लोगों के लिए राधा स्वामी सत्संग डेरों को भी एकांतवास के लिए इस्तेमाल किया जाएगा। डेरा प्रबंधन ने इस बाबत सरकार को हर वक्त सहयोग के लिए तैयार रहने का आश्वासन दिया है। मंगलवार देर शाम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने साथ-साथ संकेत दिए कि विशेषज्ञों की रिपोर्ट के बाद सरकार कर्फ्यू और लॉकडाउन में कुछ ढील दे सकती है। मुख्यमंत्री ने आज वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए राज्य के विधायकों के साथ कोरोना वायरस के हालात पर विस्तृत चर्चा की।

सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने प्रवासी मजदूरों से खास तौर पर कहा कि वे पंजाब छोड़कर न जाएं। सरकार जल्द से जल्द उनकी दुश्वारियां दूर करेगी। उत्तर प्रदेश की योगी सरकार की ओर से अपने मजदूरों को पंजाब में एकांतवास के बाद भेजने की अपील पर मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने सीएम योगी को बता दिया है कि यह उनकी सरकार को करना है, पंजाब सरकार को नहीं। अलबत्ता पंजाब सरकार इन प्रवासी मजदूरों का ख्याल रखेगी।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;