पंजाब सरकार ने नाइट के साथ वीकेंड कर्फ्यू भी हटाया, अब कॉलेज-कोचिंग के अलावा जिम और रेस्त्रां भी खुल सकेंगे

राज्य सरकार ने ऐलान किया कि स्कूल बंद रहेंगे लेकिन कॉलेज, कोचिंग और अन्य शिक्षण संस्थान डिप्टी कमिश्नर की अनुमति से खोले जा सकेंगे। इसके लिए सभी को कम से कम वैक्सीन की एक डोज का सर्टिफिकेट जमा करना होगा।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

पंजाब सरकार ने राज्य में कोरोना के कहर में आई कमी को देखते हुए लोगों के लिए बड़ी राहत का ऐलान किया है। मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने शुक्रवार को कोरोना के हालात की समीक्षा बैठक के दौरान प्रदेश में 12 जुलाई से वीकेंड और नाइट कर्फ्यू को पूरी तरह से हटाने का ऐलान किया। इसके साथ ही सरकार ने कुछ शर्तों के साथ सूबे में कॉलेज और कोचिंग संस्थान के साथ जिम, रेस्त्रां और बार खोलने की भी अनुमति दे दी।

मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि स्कूल बंद रहेंगे, लेकिन कॉलेज, कोचिंग सेंटर और अन्य शिक्षण संस्थान डिप्टी कमिश्नर की अनुमति से खुल सकेंगे। उन्होंने कहा कि इसके लिए सभी टीचिंग-नॉन टीचिंग स्टाफ और छात्रों को कम से कम दो सप्ताह पहले वैक्सीन की एक डोज लेने का संबंधित सर्टिफिकेट जमा करना होगा। सीएम अमरिंदर ने ये आदेश कोरोना के हालात की समीक्षा के लिए वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बैठक के दौरान दिए।


इसके साथ ही अमरिंदर सिंह ने कहा कि प्रदेश में बार, सिनेमा हॉल, रेस्टोरेंट्स, स्पॉ, स्विमिंग पूल, जिम, मॉल, स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स, म्यूजियम, जू भी खोले जा सकेंगे। इसके लिए स्टाफ के साथ ही विजिटर्स को वैक्सीन की कम से कम एक डोज लिया होना अनिवार्य होगा। इसके अलावा अब राज्य में इंडोर आयोजनों में सौ लोग शिरकत कर सकेंगे, जबकि आउटडोर आयोजन के लिए 200 लोगों को अनुमति दी जाएगी।

इसके साथ ही सीएम अमरिंदर सिंह ने हर समय मास्क लगाने के नियम का कड़ाई से पालन करने का भी निर्देश दिया। साथ ही उन्होंने प्रदेश के डीजीपी दिनकर गुप्ता को विभिन्न राजनीतिक दलों और नेताओं द्वारा विरोध-प्रदर्शन आयोजित कर कोरोना नियमों का उल्लंघन करने पर सख्ती से चालान काटने के निर्देश दिए।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia