सिंधुताई सपकाल के निधन पर राहुल और प्रियंका गांधी ने जताया दुख, कहा- 'माई’ के रूप में किया जाएगा याद

राहुल गांधी ने ट्वीट करके लिखा, "डॉ सिंधुताई सपकाल के निधन पर मेरी संवेदना। कई अनाथों की देखभाल के लिए उन्हें ‘माई’ के रूप में याद किया जाएगा। आदिवासी समुदायों के अधिकारों और पुनर्वास के लिए उनका व्यापक कार्य आने वाली पीढ़ियों के लिए प्रेरणा का स्रोत बना रहेगा।"

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

जानी मानी सामाजिक कार्यकर्ता और ‘अनाथ बच्चों की मां’ के तौर पर पहचानी जाने वाली सिंधुताई सपकाल का मंगलवार को दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया। पिछले साल पद्मश्री से सम्मानित होने वाली सपकाल 75 वर्ष की थीं। उनके निधन पर कांग्रेस नेता राहुल गांधी और कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने दुख जताया है।

राहुल गांधी ने ट्वीट करके लिखा, "डॉ सिंधुताई सपकाल के निधन पर मेरी संवेदना। कई अनाथों की देखभाल के लिए उन्हें ‘माई’ के रूप में याद किया जाएगा। आदिवासी समुदायों के अधिकारों और पुनर्वास के लिए उनका व्यापक कार्य आने वाली पीढ़ियों के लिए प्रेरणा का स्रोत बना रहेगा।"


कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने ट्वीट करके कहा, "सामाजिक कार्यकर्ता सिंधुताई सपकाल जी का जीवन सेवा की प्रेरणा के संदेश से भरा हुआ है। सदा प्रेम और अपनापन बरसाने वाली ताई तमाम अनाथ बच्चों का सहारा बनी। उनके निधन से देश को एक अपूर्णीय क्षति हुई है। विनम्र श्रद्धांजलि।"

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia