हड़ताली ट्रक ड्राइवर्स के समर्थन में आए राहुल गांधी, बिना चर्चा कानून बनाने पर मोदी सरकार पर बोला हमला

राहुल गांधी ने कहा कि इस कानून का दुरुपयोग संगठित भ्रष्टाचार के साथ वसूली तंत्र को बढ़ावा दे सकता है। लोकतंत्र को चाबुक से चलाने वाली सरकार शहंशाह के फरमान और न्याय के बीच का फर्क भूल चुकी है।

हड़ताली ट्रक ड्राइवर्स के समर्थन में आए राहुल गांधी, मोदी सरकार पर बोला हमला
हड़ताली ट्रक ड्राइवर्स के समर्थन में आए राहुल गांधी, मोदी सरकार पर बोला हमला
user

नवजीवन डेस्क

सड़क दुर्घटना को लेकर नए दंड कानून में प्रावधान के खिलाफ देश के अलग-अलग राज्यों में जोरदार प्रदर्शन कर रहे ट्रक ड्राइवरों के समर्थन में कांग्रेस नेता राहुल गांधी भी आ गए हैं। उन्होंने मोदी सरकार पर हमला करते हुए कहा कि बिना चर्चा के कानून बनाने की जिद लोकतंत्र की आत्मा पर निरंतर प्रहार है।

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने सोशल मीडिया एक्स पर लिखा, ''बिना प्रभावित वर्ग से चर्चा और बिना विपक्ष से संवाद के कानून बनाने की जिद लोकतंत्र की आत्मा पर निरंतर प्रहार है। जब 150 से अधिक सांसद निलंबित थे तो तब संसद में शहंशाह ने भारतीय अर्थव्यवस्था की रीढ़, ड्राइवर्स के विरुद्ध एक ऐसा कानून बनाया जिसके परिणाम घातक हो सकते हैं।''


उन्होंने आगे कहा, ''सीमित कमाई वाले इस मेहनती वर्ग को कठोर कानूनी भट्टी में झोंकना उनकी जीवनी को बुरी तरह प्रभावित कर सकता है। साथ ही इस कानून का दुरुपयोग संगठित भ्रष्टाचार के साथ वसूली तंत्र को बढ़ावा दे सकता है। लोकतंत्र को चाबुक से चलाने वाली सरकार शहंशाह के फरमान और न्याय के बीच का फर्क भूल चुकी है।

नए दंड कानून में मोटर चालकों से जुड़े हिट-एंड-रन' सड़क दुर्घटना के संबंध में प्रावधान के खिलाफ ट्रक ड्राइवरों देश भर में हड़ताल पर हैं और प्रदर्शन कर रहे हैं। भारतीय दंड संहिता की जगह लेने वाली भारतीय न्याय संहिता में उन ड्राइवरों के लिए 10 साल तक की सजा का प्रावधान है जो लापरवाही से गाड़ी चलाकर गंभीर सड़क दुर्घटना का कारण बनते हैं और पुलिस या प्रशासन को सूचित किए बिना भाग जाते हैं।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;