राहुल का मोदी सरकार से सवाल- कोरोना वॉरियर्स का अपमान क्यों? थाली बजाने, दीया जलाने से ज्यादा जरूरी उनका सम्मान

कोरोना महामारी ने जब देश में दस्तक दी थी तो उस समय पीएम मोदी कोरोना वॉयरर्स को लेकर बड़ी-बड़ी बातें की थी। उन्हें सम्मान देने की बात कही थी। लेकिन अब देश में हालत यह है कि न तो कोरोना वॉरियर्स को सम्मान मिल पा रहा और न ही उन्हें सुरक्ष मिल पा रही है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

देश में कोरोना महामारी से मचे कोहराम के बीच कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कोरोना वॉरियस की सुरक्षा और उनके सम्मान को लेकर मोदी सकार से सवाल पूछा है। उन्होंने ट्वीट कर कहा, “प्रतिकूल डाटा-मुक्त मोदी सरकार! थाली बजाने, दीया जलाने से ज़्यादा जरूरी हैं उनकी सुरक्षा और सम्मान। मोदी सरकार, कोरोना वॉरियर्स का इतना अपमान क्यों?”

जब देश में कोरोना महामारी ने दस्तक दी थी तो उस समय पीएम मोदी कोरोना वॉयरर्स को लेकर बड़ी-बड़ी बातें की थी। उन्हें सम्मान देने की बात कही थी। लेकिन अब देश में हालत यह है कि न तो कोरोना वॉरियर्स को सम्मान मिल पा रहा और न ही उन्हें सुरक्ष मिल पा रही है। राहुल गांधी ने इसी मुद्दे को अपने ट्वटी के जरिए उठाया है। उन्होंने एक रिपोर्ट को शेयर करते हुए यह बात कही है।


रिपोर्ट के मुताबिक, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के पास कोरोना वायरस से संक्रमित होने वाले और जान गंवाने वाले हेल्थ केयर स्टाफ जैसे डॉक्टर, नर्स और आशा वर्कर आदि का कोई डेटा नहीं है। केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्यमंत्री अश्विनी कुमार चौबे ने राज्यसभा में यह जानकार दी है। उन्होंने लिखित बयान में कहा, “स्वास्थ्य राज्य का विषय है। इस तरह का डाटा केंद्रीय स्तर पर स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय नहीं रखता है। हालांकि जो ऐसे जो लोग प्रधानमंत्री गरीब कल्याण इंश्योरेंस पैकेज के तहत राहत मांग रहे हैं उनका डेटाबेस राष्ट्रीय स्तर पर रखा जा रहा है।”

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia