ट्विटर पर बरसे राहुल गांधी, कहा- यह सिर्फ मेरी आवाज को नहीं, बल्कि करोड़ों लोगों को चुप करने का है मामला

कांग्रेस ने कहा कि पार्टी और राहुल गांधी लगातार लोगों की आवाज उठाते रहे हैं, दलित समुदाय के उत्पीड़न के मुद्दे, महिला सुरक्षा के मुद्दे, विशेष रूप से उत्पीड़ित समुदायों के मुद्दे और किसानों के साथ उनके अधिकारों के लिए लड़ते रहे हैं।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने अपने और पार्टी के कई अकाउंट्स को लॉक करने पर ट्विटर पर जमकर हमला बोला। उन्होंने एक वीडियो स्टेटमेंट जारी कर कहा कि एक कंपनी के तौर पर देश की राजनीति तय करने का काम ट्विटर कर रहा है। यह देश के लोकतांत्रिक ढांचे पर हमला है। उन्होंने आगे कहा कि यह मुझ पर हमला नहीं है। यह सिर्फ मेरी ही आवाज को बंद करने की बात नहीं है बल्कि लाखों करोड़ों लोगों को चुप करने का मामला है।

कांग्रेस ने कहा कि पार्टी और राहुल गांधी लगातार लोगों की आवाज उठाते रहे हैं, दलित समुदाय के उत्पीड़न के मुद्दे, महिला सुरक्षा के मुद्दे, विशेष रूप से उत्पीड़ित समुदायों के मुद्दे और किसानों के साथ उनके अधिकारों के लिए लड़ते रहे हैं। राहुल गांधी हमेशा बेजुबानों के साथ खड़े रहे हैं और इस सरकार के अन्याय और अत्याचार के खिलाफ लड़ाई लड़ी है।

कांग्रेस ने आगे कहा कि इससे मोदी सरकार अंदर तक डरी हुई है। उन्हें इस हद तक मजबूर कर रहे हैं कि वे ट्विटर पर उनके अकाउंट, कांग्रेस पार्टी के आधिकारिक अकाउंट, कांग्रेस की राज्य इकाइयों के कई आधिकारिक हैंडल और कांग्रेस नेताओं, कार्यकर्ताओं और वालंटियर्स के 5000 से अधिक अकाउंट्स को प्रतिबंधित करने का जबरन आदेश देकर उनकी आवाज दबा रहे हैं।


कांग्रेस ने कहा कि हमारे 75वें स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या पर, इस तरह के अत्याचार और सत्ता के खुले तौर पर दुरुपयोग कांग्रेस पार्टी के सैनिकों को नहीं डरा पाएगा, जिसने देश की आजादी के लिए अपना पसीना और खून बहाया है। हम न्याय के लिए लड़ते रहेंगे और सच्चाई के साथ खड़े रहेंगे। मोदी सरकार ध्यान भटकाने और डराने की कोशिश कर सकती है, लेकिन हम सत्ता से सच बोलना बंद नहीं करेंगे।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia