चीनी घुसपैठ पर पीएम की चुप्पी पर राहुल गांधी ने कसा तंज, कहा- इधर-उधर की न बात कर, बता काफिला कैसे लुटा!

पीएम मोदी ने अपने संबोधन में चीनी घुसपैठ पर एक शब्द भी नहीं बोला और न ही देश में करीब एक महीने से बढ़ रही पेट्रोल-डीजल की कीमतों पर ही कुछ कहा। देश पर छाए आर्थिक संकट और विकराल होती बेरोजगारी पर भी प्रधानमंत्री ने अपने संबोधन में एक शब्द खर्च नहीं किया।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के राष्ट्र के नाम संबोधन के फौरन बाद राहुल गांधी ने एक शेर के जरिये उन पर करारा तंज कसा है। पीएम मोदी के संबोधन के तुरंत बाद राहुल गांधी ने ट्वीट किया, "तू इधर-उधर की न बात कर, ये बता कि काफिला कैसे लुटा, मुझे रहजनों से गिला तो है, पर तेरी रहबरी का सवाल है।" राहुल गांधी के इस शायराना ट्वीट को पीएम मोदी के अपने संबोधन में चीनी घुसपैठ, अर्थव्यवस्था और बढ़ती पेट्रोल-डीजल कीमतों पर कुछ न बोलने पर तंज के तौर पर देखा जा रहा है।

दरअसल ऐसा इसलिए है कि पीएम मोदी ने अपने संबोधन में चीनी घुसपैठ और सीमा विवाद पर एक शब्द भी नहीं बोला। और न ही पीएम ने अपने संबोधन में देश में लगातार करीब एक महीने से बढ़ रही पेट्रोल-डीजल की कीमतों पर ही एक शब्द कहा। देश में छाए आर्थिक संकट और विकराल होती बेरोजगारी पर भी प्रधानमंत्री ने अपने संबोधन में एक शब्द खर्च नहीं किया।

खास बात ये है कि पीएम मोदी के राष्ट्र के नाम संबोधन से ठीक पहले कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने एक वीडियो संदेश जारी करते हुए उनसे कुछ सवाल पूछे थे और उम्मीद जताई थी कि इन पर वह अपने संबोधन में कुछ बोलेंगे। वीडियो में राहुल गांधी ने पीएम मोदी से गरीबों को राहत देने के लिए न्याय योजना लागू करने की मांग के साथ ही यह भी पूछा था कि 'चीनी फौज भारतीय जमीन छोड़ कर कब जाएगी।

राहुल गांधी ने वीडियो संदेश में कहा, "कोरोना वायरस ने गरीब, मध्यम, मजदूर वर्ग और वेतनभोगियों को जबरदस्त चोट पहुंचाया है। हमने सरकार से न्याय योजना को लागू करने की मांग की है, भले ही यह छह महीने के लिए हो। सरकार को गरीबों के खातों में हर महीने 7,500 रुपये ट्रांसफर करने चाहिए।"

साथ ही उन्होंने कहा, "पूरा देश जानता है कि चीन की फौज ने हमारी पवित्र जमीन छीनी है। चीन लद्दाख के अंदर चार जगहों पर बैठा हुआ है। नरेंद्र मोदी जी आप यह बताइए कि चीन की फौज को आप कब निकालेंगे और कैसे निकालेंगे।" उन्होंने पिछले तीन हफ्तों में पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ाने को लेकर भी सरकार से जवाब मांगा ।

लोकप्रिय