राजस्थान चुनाव: BJP ने अपने पोस्टर में जिस किसान की छापी फोटो उसने कहा- मेरी कोई जमीन नहीं हुई नीलाम, मुझे किया बदनाम

किसान ने कहा कि बेटे ने जब पोस्टर के बारे में जानकारी दी तो पहले तो मुझे कुछ समझ में ही नहीं आया, क्योंकि बैनर में जमीन नीलामी की बात की गई थी। किसान ने कहा कि मेरी तो कोई जमीन ही नीलाम नहीं हुई है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

राजस्थान में आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर सभी पार्टियां जोर-शोर से चुनाव प्रचार में जुटी हुई हैं। उधर, संभावित हार को देखते हुए बीजेपी के खेमे में खलबली मची हुई है। आरोप है कि बीजेपी चुनाव प्रचार के लिए झूठ का सहारा ले रही है। बीजेपी राज्य में 'नहीं सहेगा राजस्थान' नाम से अभियान चला रही है। अभियान के तहत बीजेपी ने एक पोस्टर जारी किया था। पोस्टर में लिखा था, '19 हजार से अधिक किसानों की जमीनें नीलाम, नहीं सहेगा राजस्थान'। पोस्टर में बीजेपी ने ऐसे किसान की तस्वीर लगाई है, जो 200 बीघा जमीन का मालिका है और उसकी जमीन भी कभी नीलाम नहीं हुई।

BJP के बैनर में अपनी तस्वीर देख किसान हैरान

दैनिक भास्कर की रिपोर्ट के मुताबिक, किसान ने कहा कि उस पर न तो कोई कर्जा है और न ही उसकी जमीन नीलाम हुई है। वह 200 बीघा जमीन का मालिक भी है। किसान अब बीजेपी पर मानहानि का केस करने की बात कह रहा है। किसान राजस्थान के जैसलमेर जिले के रामदेवरा का रहने वाला है। रिखियों की ढाणी में रहने वाले किसान माधुराम जयपाल, जिनकी उम्र 70 साल है, उन्होंने कहा कि बीजेपी के बैनर पर लगी तस्वीर उन्हीं की है। उन्होंने बताया कि गांव के एक युवक ने उन्हें बताया कि बीजेपी के बैनर पर उनकी तस्वीर लगी है।

किसान माधुराम ने बताया कि उनके गांव से एक युवक कुछ दिन पहले जयपुर गया था। उसने जयपुर में कई जगहों पर पेस्टर लगा देखा, जिस पर माधुराम की फोटो थी। यवक बैनर की तस्वीर लेकर गांव के एक वॉट्सऐप ग्रुप में शेयर कर दिया। इसी ग्रुप में किसान का बेटा जुड़ा था। उसने यह मैसेज देखा तो अपने पिता को बताया।

किसान ने कहा कि बेटे ने जब पोस्टर के बारे में जानकारी दी तो पहले तो मुझे कुछ समझ में ही नहीं आया, क्योंकि बैनर में जमीन नीलामी की बात की गई थी। किसान ने कहा कि मेरी तो कोई जमीन ही नीलाम नहीं हुई है। किसान ने कहा कि मेरी फोटो बिना वजह लगा दी गई। मुझसे पूछा भी नहीं गया। मेरे ऊपर कोई भी कर्जा नहीं है। किसान ने कहा कि बैनर से मेरी तस्वीर को हटाया जाए। किसान ने कहा कि मैं बीजेपी को नहीं जानता। मैंने कोई लोन भी नहीं लिया। हां, मैंने केसीसी ली हुई है। कोई मुझसे कुछ मांग रहा है तो फोटो छापो, लेकिन कुछ है ही नहीं तो क्यों छापा?


किसान ने बीजेपी नेता से मिलकर जताई नाराजगी

किसान माधुराम ने कहा कि बैनर में तस्वीर का पता चलने के बाद मैं स्थानीय बीजेपी नेता नारायण सिंह से मिला। बीजेपी नेता ने मुझसे कहा कि उनकी गलत फोटो लगाई गई है। बीजेपी नेता नारायण सिंह ने किसान से कहा कि मुझे नहीं पता, किसने लगाई है।

बीजेपी नेता नारायण सिंह ने कहा कि मेरे पास माधूराम जयपाल नाम का किसान आया था, उसने मुझे बताया कि उसका फोटो बीजेपी के पोस्टर पर छपा हुआ है, लेकिन मुझे इस बारे में कोई जानकारी नहीं थी। मैंने उसको कहा मैं पता करूंगा।

किसान के बेटे ने क्या कहा?

किसान के बेटे जुगताराम ने कहा कि जब से यह बात सामने आई है मेरे पिता तनाव में रहते हैं। मुझसे बार-बार पूछते हैं कि उस फोटो का क्या हुआ? हटी की नहीं। किसान के बेटे ने कहा कि मैं बीजेपी से अपील करता हूं कि मेरे पिता की फोटो हटा दें। हमारी बदनामी हो रही है। लोग तरह तरह की बाते कर रहे हैं।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


/* */