राजनाथ ने पीएम मोदी की चौकीदारी पर खड़े किए सवाल, कहा- ‘चौकीदार’ के आते ही भाग गए माल्या, मेहुल और नीरव

हीरा कारोबारी नीरव मोदी, मेहुल चोकसी और विजय माल्या जैसे उद्योगपति देश के बैंकों का हजारों करोड़ रुपये लेकर भाग गए थे। यह सभी उद्योगपति 2014 में मोदी की सरकार आने के बाद ही भागे थे।

फोटो: @rajnathsingh
फोटो: @rajnathsingh

नवजीवन डेस्क

उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में बीजेपी नेता और गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने बड़ा बयान दिया है। उन्होंने अपने बयान से मोदी सरकार पर ही सवाल खड़े कर दिए हैं। उन्होंने जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि जब तक देश में कांग्रेस की सरकार थी तब तक नीरव मोदी, मेहुल चोकसी और विजय माल्या जैसे उद्योगपति नहीं भागे, लेकिन जैसे ही ‘चौकीदार’ आया वो भाग गए। उन्होंने पीएम मोदी को चौकन्ना ‘चौकीदार’ बताया। चौकन्ना ‘चौकीदार’ कहते ही राजनाथ सिंह ने पीएम मोदी की हुकूमत पर सवाल खड़े कर दिए। सवाल यह है कि अगर ‘चौकीदार’ चौकन्ना था तो यह उद्योगपति कैसे भाग गए?

गौरतलब है कि नीरव मोदी, मेहुल चोकसी और विजय माल्या जैसे उद्योगपति देश के बैंकों का हजारों करोड़ रुपये लेकर भाग गए थे। यह सभी उद्योगपति 2014 में मोदी की सरकार आने के बाद ही भागे थे। कांग्रेस पार्टी भी यह सवाल पूछती रही है कि अगर मोदी जी खुद को ‘चौकीदार’ कहते है तो उनकी चौकीदारी में देश का हजारों करोड़ रुपये लेकर नीरव मोदी, मेहुल चोकसी विजय माल्या जैसे उद्योगपति कैसे भाग गए?

कांग्रेस का यह भी आरोप है कि विजय माल्या जैसा उद्योगपति तो वित्त मंत्री अरुण जेटली से संसद में मुलाकात के बाद भागा था। कांग्रेस का कहना है कि माल्या के देश छोड़ने से पहले मोदी सरकार को इस बात की जानकारी थी। बावजूद इसके मोदी सरकार ने विजय माल्या को भागने दिया। कांग्रेस का आरोप है कि पहले मोदी सरकार ने इन उद्योगपतियों को देश भगाया और वह इन्हें देश वापस लाने का ढोंग कर रही है।

लोकप्रिय