राज्‍यसभा चुनाव: कांग्रेस की चाल से हरियाणा BJP में हड़कंप! समर्थक निर्दलीयों समेत अपने विधायकों को बुलाया चंडीगढ़

कांग्रेस के विधायकों के चंडीगढ़ से बाहर जाते वक्‍त अपने विधायकों को बब्‍बर शेर बताने वाली बीजेपी के माथे पर अचानक से पसीना दिखने लगा है। बीजेपी की बदली रणनीति के पीछे कांग्रेस की रणनीति मानी जा रही है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

धीरेंद्र अवस्थी

हरियाणा में राज्‍यसभा की दो सीटों के लिए हो रहा चुनाव दिलचस्‍प हो गया है। कांग्रेस की रणनीति से बीजेपी में हड़कंप है। राज्‍य की बीजेपी नीत सरकार को समर्थन दे रहे निर्दलीय विधायकों और सहयोगी दुष्‍यंत चौटाला की जननायक जनता पार्टी में कांग्रेस की सेंधमारी से बीजेपी बेचैन हो गई है। बीजेपी ने 10 जून को होने वाली वोटिंग से पहले अचानक 8 जून की शाम को अपने सभी विधायकों को चंडीगढ़ बुलाया है। साथ ही समर्थक सभी निर्दलीय विधायकों को भी कॉल किया गया है। जेजेपी के विधायकों को भी बुलाया जा सकता है। इन सभी विधायकों को चंडीगढ़ के समीपवर्ती हिमाचल के किसी होटल या न्‍यू चंडीगढ़ के एक खूबसूरत रिजार्ट में ले जाया जा सकता है।

कांग्रेस के विधायकों के चंडीगढ़ से बाहर जाते वक्‍त अपने विधायकों को बब्‍बर शेर बताने वाली बीजेपी के माथे पर अचानक से पसीना दिखने लगा है। बीजेपी की बदली रणनीति के पीछे कांग्रेस की रणनीति मानी जा रही है। सूत्र कह रहे हैं कि दुष्‍यंत चौटाला की जेजेपी और कई निर्दलीय विधायक कांग्रेस के संपर्क में हैं। बकौल एक बड़े बीजेपी नेता, यह भी कहा जा रहा है कि कांग्रेस प्रत्‍याशी अजय माकन को उम्‍मीद से कहीं ज्‍यादा वोट मिलते दिख रहे हैं। कहा यह भी जा रहा है कि बीजेपी-जेजेपी के समर्थन से निर्दलीय पर्चा दाखिल करने वाले मीडिया बैरन कार्तिकेय शर्मा अपने समर्थकों की उम्‍मीदों पर खरे नहीं उतर पा रहे हैं। कार्तिकेय शर्मा के पिता पूर्व केंद्रीय मंत्री विनोद शर्मा सियासत के बड़े खिलाड़ी रहे हैं। उम्‍मीदवार बेशक कार्तिकेय हैं, लेकिन पर्दे के पीछे रणनीति विनोद शर्मा ही बना रहे हैं। सूत्रों के मुताबिक, बाजी कमजोर पड़ती देख विनोद शर्मा भी अब लड़ाई बीजेपी के सहारे ही लड़ रहे हैं। राज्‍यसभा चुनाव से सीधे मुख्‍यमंत्री मनोहर लाल की प्रतिष्‍ठा जुड़ी है। लिहाजा, रणनीति कमजोर पड़ती देख बीजेपी ने अचानक आज निर्दलीयों समेत अपने सभी विधायकों को 8 जून की शाम को चंडीगढ़ पहुंचने का फरमान जारी कर दिया है। कहा यह जा रहा है कि इन विधायकों को हिमाचल के टिंबर ट्रेल या कसौली के किसी होटल ले जाया जा सकता है। न्‍यू चंडीगढ़ स्थित एक रिजॉर्ट में ले जाने की बात भी हो रही है। चरखीदादरी से निर्दलीय विधायक सोमवीर सांगवान ने इस बात की पुष्टि भी कर दी है कि 8 जून की शाम 4 बजे चंडीगढ़ पहुंचने के लिए कहा गया है। सांगवान ने पंजाब के किसी होटल में ले जाने की बात कही है, जिसके मुताबिक, सभी विधायकों के न्‍यू चंडीगढ़ ले जाने की संभावना अधिक दिख रही है। सोमवीर सांगवान के मुताबिक, वहां सभी विधायकों को प्रशिक्षण दिया जाएगा।

गौरतलब है कि हरियाणा में दो राज्‍यसभा सीटों के लिए हो रहे चुनाव में कांग्रेस से अजय माकन और बीजेपी से कृष्‍ण लाल पंवार उम्‍मीदवार हैं। बीजेपी और जेजेपी के समर्थन से उतरे निर्दलीय कार्तिकेय शर्मा की वजह से चुनाव की नौबत आई है। इस एक सीट पर हार-जीत सरकार की नाक का सवाल बन गई है। इस सीट पर जीत हासिल करने के लिए मुख्‍यमंत्री मनोहर लाल कोई प्रयास नहीं छोड़ रहे हैं। 10 जून को चुनाव होना है। विधायकों की संख्‍या के मुताबिक, एक सीट पर बीजेपी उम्मीदवार कृष्णलाल पंवार और एक सीट पर कांग्रेस के अजय माकन की जीत तय है।

हरियाणा की 90 सदस्यीय विधानसभा में राज्यसभा की पहली सीट पर 31 विधायकों की वोट मिलते ही बीजेपी के कृष्णलाल पंवार विजयी हो जाएंगे। दूसरी सीट पर जीत के लिए कांग्रेस उम्मीदवार अजय माकन को भी 31 वोट चाहिए। कांग्रेस विधायकों की संख्या 31 ही है। कांग्रेस की कोशिश अपनी पार्टी के 31 विधायकों के अलावा भी विधायकों का समर्थन हासिल करने की है। निर्दलीय विधायक बलराज कुंडू ने अभी अपना फैसला नहीं सुनाया है, लेकिन उन्‍होंने संकेत दे दिए हैं। बलराज कुंडू बीजेपी से बागी होकर निर्दलीय विधानसभा चुनाव जीते थे और उन्होंने अपना जनसेवक मंच बनाया हुआ है। इनेलो के विधायक अभय चौटाला खुला आरोप लगा चुके हैं कि जजपा वालों का हाथ आजकल विनोद शर्मा की जेब में है और इस चुनाव में बड़ी हॉर्स ट्रेडिंग होने वाली है। अभय चौटाला और बलराज कुंडू यदि गैरहाजिर भी होते हैं तो परिणाम कांग्रेस के हक में बेहतर जाएगा। 90 सदस्‍यीय विधानसभा में बीजेपी के 40 विधायक हैं। कांग्रेस के 31, निर्दलीय 7, जेजेपी के 10, हलोपा का 1 और 1 विधायक इनेलो का है।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia