हालात

पत्रकार हत्याकांड: 16 साल पूराने मामले में गुरमीत राम रहीम दोषी करार, पंचकूला कोर्ट 17 जनवरी को सुनाएगा सजा

डेरा सच्‍चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम पर पंचकूला में सीबीआई कोर्ट ने अपना फैसला सुना दिया है। कोर्ट ने राम रहीम को दोषी करार दिया है, इसके साथ ही तीन अन्य को भी दोषी करार दिया है। इस केस की सजा कोर्ट 17 जनवरी को सुनाएगा।

फोटो: सोशल मीडिया 
फोटो: सोशल मीडिया 

नवजीवन डेस्क

पत्रकार रामचंद्र छत्रपति हत्याकांड में डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम को पंचकूला की विशेष कोर्ट ने दोषी करार दिया है। विशेष कोर्ट ने इस मामले में राम रहीम समेत 4 आरोपियों को दोषी ठहराया है। इस केस की सजा कोर्ट 17 जनवरी को सुनाएगा। बता दें कि साल 2002 में 24 अक्टूबर को पत्रकार रामचंद्र छत्रपति पर हमला हुआ था और 21 नवंबर 2002 को दिल्ली के एक अस्पताल में उनकी मौत हो गई थी।

राम रहीम के खिलाफ सुनवाई के मद्देनजर आज हरियाणा और पंजाब के कई क्षेत्रों में सुरक्षा बढ़ा दी गई थी। हरियाणा के पंचकूला, सिरसा और रोहतक जिलों में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए थे। यहां कानून व्यवस्था से जुड़ी किसी भी स्थिति से निपटने के लिए राज्य सशस्त्र पुलिस की कई कंपनियों, दंगा विरोधी पुलिस और कमांडो बल को तैनात हुए थे।

गौरतलब है कि अगस्त 2017 में राम रहीम को सजा सुनाए जाने के दौरान हरियाणा के सिरसा और पंचकूला में हिंसा भड़क गई थी, जिसमें 40 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई थी और कई लोग घायल हो गए थे।

बता दें कि पत्रकार रामचंद्र छत्रपति हत्याकांड करीब 16 साल पुराना है और डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम इसमें आरोपी है। साल 2002 में पत्रकार रामचंद्र छत्रपति की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। छत्रपति के समाचार पत्र ‘पूरा सच’ ने एक पत्र प्रकाशित किया था जिसमें यह बताया गया था कि डेरा मुख्यालय में राम रहीम किस प्रकार महिलाओं का यौन उत्पीड़न कर रहे हैं। पत्रकार छत्रपति के परिजनों ने राम रहीम के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज करवाया था और बाद में इसे सीबीआई के सुपुर्द कर दिया गया था। सीबीआई ने 2007 में चार्जशीट दाखिल कर दी थी।

Published: 11 Jan 2019, 5:13 PM
लोकप्रिय