कांग्रेस का PM पर तंज- मोदी का पुराना वीडियो किया शेयर, 'देश बिजली संकट पीछे छोड़ बिजली सरप्लस हो रहा'

सुरजेवाला ने पीएम मोदी पर तंज कसते हुए बिजली संकट पर उनका एक पुराना बयान भी शेयर किया है। जिसमें पीएम कह रहे हैं कि देश बिजली संकट को पीछे छोड़कर अब बिजली सरप्लस हो रहा है और ये सब कुछ बड़ी रणनीति के तहत नहीं नई अप्रैच से हो रहा है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

देश में एक तरफ भीषण गर्मी पड़ रही है वहीं दूसरी तरफ कई राज्यों में कोयला की कमी के चलते बिजली संकट पैदा हो गया है। कोयले की कमी के कारण पावर प्लांट में बिजली का उत्पादन कम हो गया है तो कई प्लांट ठप हो गए हैं। देश पीड़ित है, जनता त्राहिमाम कर रही है लेकिन देश का प्रधान सेवक भाषणों में व्यस्त है। कोयला और बिजली संकट को लेकर एक बार फिर विपक्ष ने मोदी सरकार को जमकर घेरा है।

कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने एक बार फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा है। उन्होंने ट्वीट कर कहा है कि मोदी जी, "बिजली घरों में कोयला नहीं है.." ये कोई ब्रेकिंग न्यूज़ नहीं बल्कि हर दिन की 24×7 न्यूज़ है। देश भर में भीषण गर्मी के बीच भयंकर बिजली कटौती से हाहाकार मचा हुआ है। एक चौथाई से ज़्यादा पॉवर प्लांट बंद पड़े हैं और 700 से अधिक ट्रेने रद्द हैं। रणदीप सुरजेवाला ने पूछा कि ये कैसी "नई अप्रोच" है?

आपको बता दें, सुरजेवाला ने अपने इस ट्वीट में पीएम मोदी का एक बयान भी शेयर किया है। बता दें ये बयान 2017 का है , जिसमें पीएम मोदी कह रहे हैं "याद कीजिए कितने दिन हुए कि आपने कभी ऐसी ब्रेकिंग न्यूज देखी क्या कि कोयला नहीं है, बिजली घरों में कोयला नहीं है.. नहीं देखी। साथियों देश बिजली संकट को पीछे छोड़कर अब बिजली सरप्लस हो रहा है और ये सब कुछ बड़ी रणनीति के तहत नहीं नई अप्रैच से हो रहा है"

ऐसा पहली बार नहीं है जब बिजली संकट को लेकर रणदीप सुरजेवाला ने सरकार को घेरा हो। बीते दिन भी सुरजेवाला ने ट्वीट कर जमकर निशाना साधा था। कांग्रेस प्रवक्त रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट करते हुए मोदी सरकार से सवाल किए और उसका उन्होंने जवाब मांगा। उन्होंने लिखा था कि आज 29 अप्रैल को 11 बजे तक देश में बिजली की मांग 12 हजार मेगावाट है। आज एनर्जी एक्सचेंज में बिजली खरीद की कीमत 12 रुपये प्रति यूनिट है। अगर केन्द्र सरकार आगे बढ़ मदद नहीं करेगी तो राज्य मंहगी बिजली कैसे खरीदेंगे? अब तक 12 रुपये में भी बिजली नहीं मिलती है।

रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट में आगे लिखा था कि आग बरसाती गर्मी... 12 घंटे की बिजली कट.. पीएम मौन, बिजली-कोयला मंत्री गुम! उन्होंने आगे तीन सवाल करते हुए पूछा है- देश में 72,074 मेगावाट क्षमता के प्लांट बंद क्यों? देश के 173 पावर प्लांट्स में से 106 प्लांट्स में कोयला 0%-25% के बीच ही क्यों? कोयले की मांग रोज़ 22 लाख टन, सप्लाई 16 लाख टन ही क्यों?

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia