दिल्ली के रेलवे स्टेशनों पर शुरू हुई यात्रियों की रैंडम जांच, कोरोना कहर के बीच संक्रमण चेन तोड़ने की कोशिश

इस दौरान, यदि कोई व्यक्ति संक्रमित पाया जाता है तो उसे स्थानीय कोविड केयर सेंटर भेजा जाता है। इसके अलावा जिन यात्रियों की जांच दो दिन में आती है उनकी जांच नोट कर उनसे बाद में संपर्क किया जाता है। पॉजिटिव आने पर उनको होम आइसोलेट किया जाता है।

फोटोः विपिन
फोटोः विपिन
user

नवजीवन डेस्क

राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस के लगातार बढ़ते मामलों से चिंता बढ़ती जा रही है। ऐसे में संक्रमण की चेन को तोड़ने के लिए भीड़भाड़ वाली तमाम जगहों पर लोगों की रैंडम चेकिंग शुरू कर दी गई है। रेलवे स्टेशनों पर भी विशेष तौर पर सतर्कता बरती जा रही है। यहां यात्रियों की रैंडम कोरोना आरटीपीसीआर और रैपिड एंटीजन जांच हो रही है।

फिलहाल, दिल्ली के जिन भीड़ भाड़ वाली जगहों पर यह चेकिंग हो रही है, उनमें दिल्ली के रेलवे स्टेशन भी शामिल हैं। इसके अलावा, यहां चेकिंग के साथ यात्रियों का टीकाकरण भी किया जा रहा है। दिल्ली के अलावा अन्य राज्यों में भी संक्रमण फैल रहा है। जिन राज्यों में ज्यादा मामले आ रहें हैं, उन राज्य के लोगों पर कड़ी निगरानी बनी हुई है।

आनंद विहार रेलवे स्टेशन पर प्रतिदिन करीब 1 हजार लोगों की जांच की जा रही है। इनमें रैपिड और आरटीपीएस जांच शामिल है। इस दौरान, यदि कोई व्यक्ति संक्रमित पाया जाता है तो उसे स्थानीय कोविड केयर सेंटर भेजा जाता है। इसके अलावा जिन यात्रियों की जांच दो दिन में आती है उनकी जांच नोट कर उनसे बाद में संपर्क किया जाता है। पॉजिटिव आने पर उनको होम आइसोलेट किया जाता है। वहीं शाहदरा क्षेत्र में करीब 20 जगहों पर रैंडम जांच की जा रही है। ये जांच कैम्प लगाकर और मोबाइल वैन के माध्यम से भी की जा रही है।


दरअसल गुरुवार को दिल्ली में कोविड केस 15 हजार के पार दर्ज किये गए। 6 मरीजों की मृत्यु भी हुई। इसी के साथ दिल्ली में संक्रमण दर साढ़े 15 फीसदी से अधिक पहुंच गया है। दिल्ली में कोरोना संक्रमण के कारण हुई कुल मृत्यु का आंकड़ा 25,127 हो गया है। हालांकि, कुल 6900 मरीज ठीक होकर अपने घर वापस भी जा चुके हैं। सक्रिय कोरोना मरीजों की संख्या 31498 हो गई है।

इसके अलावा दिल्ली के विभिन्न कोविड अस्पतालों में कुल 1091 मरीज मौजूदा वक्त में भर्ती हैं।
इनमें कुल 135 मरीज दिल्ली के बाहर से हैं और 869 मरीज दिल्ली राज्य से हैं। इसके दिल्ली में संक्रमित कुल मरीजों में से 769 मरीज बिना ऑक्सीजन सपोर्ट पर हैं, जबकि 211 मरीज अभी ऑक्सीजन सपोर्ट पर हैं और 24 मरीज वेंटिलेटर पर हैं।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia