भ्रामक पोस्‍ट करने पर सुदर्शन न्यूज का रेजिडेंट एडिटर गिरफ्तार, गुरुग्राम पुलिस आयुक्त के खिलाफ फैला रहा था झूठ

मुकेश कुमार ने ट्वीट किया था कि गुरुग्राम पुलिस आयुक्त को अल जजीरा चैनल से फोन आया था और उन पर हिंदुओं के खिलाफ कार्रवाई करने का दबाव है। उसने दावा किया कि फोन आने के बाद उन्होंने दबाव में आकर हिंदुत्व संगठनों के कार्यकर्ताओं पर कार्रवाई शुरू कर दी।

भ्रामक पोस्‍ट करने पर सुदर्शन न्यूज का रेजिडेंट एडिटर गिरफ्तार
भ्रामक पोस्‍ट करने पर सुदर्शन न्यूज का रेजिडेंट एडिटर गिरफ्तार
user

नवजीवन डेस्क

हरियाणा के नूंह और गुरुग्राम में हिंसा के बाद शांति बहाली की कोशिशों के बीच सुदर्शन न्यूज के रेजिडेंट एडिटर मुकेश कुमार को गुरुग्राम पुलिस आयुक्त कला रामचंद्रन के खिलाफ सोशल मीडिया प्‍लेटफॉर्म एक्‍स पर भ्रामक पोस्ट करने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस ने बताया कि साइबर क्राइम थाने की टीम ने उसे गिरफ्तार किया है।

मुकेश कुमार के खिलाफ 9 अगस्त को आईपीसी की धारा 153बी, 401, 469 और 505 (1) (सी) और आईटी अधिनियम की धारा 66-सी के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई थी। गुरुग्राम पुलिस ने एक बयान में कहा, "8 अगस्त को 'एक्‍स' (पूर्व में ट्विटर) पर @मुकेशकेआरडी हैंडल से निराधार, असत्य और भ्रामक तथ्यों के आधार पर एक पोस्ट किया गया था। इस पर संज्ञान लेते हुए गुरुग्राम पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है और मामले की आगे की जांच जारी है।“

भ्रामक पोस्‍ट करने पर सुदर्शन न्यूज का रेजिडेंट एडिटर गिरफ्तार, गुरुग्राम पुलिस आयुक्त के खिलाफ फैला रहा था झूठ

मिली जानकारी के अनुसार, मुकेश कुमार ने कथित तौर पर ट्वीट किया था कि गुरुग्राम पुलिस आयुक्त को अल जजीरा समाचार चैनल से फोन आया था और उन पर हिंदुओं के खिलाफ कार्रवाई करने का दबाव बनाया जा रहा है। उन्होंने दावा किया कि फोन आने के बाद वह इतने दबाव में आ गईं कि उन्होंने हिंदुत्व संगठनों के कार्यकर्ताओं पर कार्रवाई शुरू कर दी।

गुरूग्राम पुलिस की यह कार्रवाई 31 जुलाई को विश्‍व हिंदू परिषद जुलूस को रोकने की कोशिश में नूंह और गुरुग्राम जिलों में हुई सांप्रदायिक झड़पों के कुछ दिनों बाद आई है। हिंसा के कारण सरकार को नूंह, पलवल, होडल और सोहना में कर्फ्यू लगाना पड़ा और मोबाइल इंटरनेट सेवाएं निलंबित करनी पड़ीं। इस हिंसा में 6 लोगों की मौत हो गई और कई लोग घायल हुए हैं।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;