रांची के नगड़ी और इटकी इलाकों में दंगाईयों ने रात भर मचाया उत्पात, कई लोग घायल

झारखंड की राजधानी रांची बीते कई दिनों से सांप्रदायिक तनाव की स्थिति से गुजर रही है। गुरुवार की देर रात रांची के नगड़ी और इटकी इलाके में उपद्रवियों ने जमकर उत्पात मचाया, जिसमें कई लोगों की घायल होने की खबर है।

फोटो: सोशल मीडिया 
फोटो: सोशल मीडिया

नवजीवन डेस्क

रांची के नगड़ी और इटकी इलाके में देर रात एक बार फिर बवाल हुआ। दो गुटों में भिड़ंत के बाद जमकर पथराव हुआ और दर्जनों वाहनों में तोड़फोड़ की गई। इसके अलावा कई घरों को भी निशाना बनाया गया। पत्थरबाजी में कई लोगों को गंभीर चोटें आईं है।

मामले की सूचना मिलते ही रांची के डीसी समेत वरीय पुलिस अधिकारी दलबल के साथ मौके पर पहुंचे और स्थिति को संभाला। हालात को देखते हुए नगड़ी और इटकी में पुलिस कैंप लगा दी गई है। दोनों जगहों पर तनाव के बाद भी स्थिति नियंत्रण में है।

खबरों के मुताबिक, इटकी में रात करीब 11 बजे अचानक माहौल बिगड़ गया। एक गुट के लोगों ने अचानक पथराव शुरू कर दिया। एक ऑटो को क्षतिग्रस्त कर दिया। कई दुकानों में तोड़फोड़ की गई। पुलिस का कहना है कि स्थिति तनावपूर्ण लेकिन नियंत्रण में है और इलाकों में फोर्स की तैनाती कर दी गई है।

दूसरी घटना नगड़ी चौक की है। नगड़ी चौक के पास स्थित बाजार में अचानक दो गुट एक दूसरे पर पत्थर फेंकने लगे। भगदड़ और पथराव के बाद कुछ लोग बाजार के पास स्थित एक धार्मिक स्थल में घुस गए। लेकिन कुछ देर बाद दोनों ओर से फिर पत्थरबाजी शुरू हो गई। खबरों के मुताबिक, बाजार में पहले मौजूद पुलिस के सामने उपद्रवियों ने हंगामा किया। सूचना के बाद डीसी, एसएसपी समेत अन्य अधिकारी मौके पर पहुंचे और हालात का जायजा लिया।

मंगलवार को भी नगड़ी में एक धार्मिक स्थल के परिसर में जानवर की हड्डी मिलने के बाद दो पक्षों में जमकर बवाल हुआ था। इस दौरान एक-दूसरे पर जमकर पत्थरबाजी की गई थी। इस घटना में भी दोनों पक्षों के कई लोगों को चोटें आयी थीं। बाद में मौके पर पहुंची पुलिस ने लाठीचार्ज किया, जिसके बाद उपद्रवी भाग खड़े हुए थे।

इससे पहले रविवार को नगड़ी इलाके में कुछ असामाजिक तत्वों ने नमाज से लौट रहे एक मौलाना के साथ जमकर मारपीट की थी। हमलावर जय श्रीराम बोलकर मौलाना को पीट रहे थे। इस हमले के बाद इलाके में तनाव फैल गया था। पुलिस ने कहा कि इस मामले में उसने आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

दो दिन के अंदर दूसरी बार हुए विवाद के बाद इलाके में और अधिक पुलिस फोर्स बढ़ा दी गयी है। पुलिस सड़कों पर मार्च कर रही है और किसी भी स्थिति से निपटने के लिए पूरी तरह तैयार है।

लोकप्रिय