तेजस्वी के दूसरे धर्म में शादी करने पर भड़के मामा साधु यादव, बहिष्कार करने और सबक सीखाने का किया ऐलान

साधु यादव ने अमर्यादित भाषा का इस्तेमाल करते हुए कहा के तेजस्वी परिवार और पार्टी में मनमानी कर रहे हैं। वह हम पर शासन करना चाहते हैं। साधु ने तेजस्वी के साथ ही उनकी बहनों को लेकर भी काफी अमर्यादित भाषा का इस्तेमाल किया और उनकी पोल खोलने का दावा किया।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

आरजेडी नेता तेजस्वी यादव की अपनी पूर्व सहपाठी रेचल के साथ अंतर-सामुदायिक विवाह को लेकर उनके मामा साधु यादव शुक्रवार को भड़क गए। गोपालगंज के पूर्व सांसद साधु यादव ने तेजस्वी पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा, "उन्होंने दूसरे समुदाय की लड़की से शादी कर लालू प्रसाद के परिवार की छवि खराब की है। वह बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष कहलाने के लायक नहीं हैं।"

साधु यादव ने अमर्यादित भाषा का इस्तेमाल करते हुए कहा, "वह परिवार और पार्टी में मनमानी कर रहे हैं। वह हम पर शासन करना चाहते हैं। हम उन्हें ऐसा करने की अनुमति नहीं दे सकते। हम उनका बहिष्कार करेंगे। हम उन्हें सबक सिखाएंगे।" साधु यादव ने तेजस्वी के साथ ही उनकी बहनों को लेकर भी काफी अमर्यादित भाषा का इस्तेमाल किया और उनकी पोल खोलने का दावा किया।


बता दें कि साधु यादव को शादी समारोह में आमंत्रित नहीं किया गया था। गुरूवार को दिल्ली में हुई शादी में केवल 50 मेहमानों को ही निमंत्रण दिया गया था। इससे भी नाराज साधु यादव ने शादी में शामिल होने वालों पर भी कई आरोप लगाए। उन्होंने कहा कि शादी में शामिल हुए लालू प्रसाद के पुराने सहयोगी प्रेम गुप्ता एक 'भ्रष्ट व्यक्ति' हैं। उन्होंने कहा कि वास्तव में शादी में शामिल हुए सभी आमंत्रित व्यक्ति भ्रष्ट हैं।

तेजस्वी यादव ने गुरुवार को दक्षिणी दिल्ली के सैनिक फार्म इलाके में परिवार के सभी सदस्यों की मौजूदगी में शादी की। उन्होंने सीमित लोगों को शादी में आमंत्रित किया था। यहां तक कि आरजेडी के बिहार अध्यक्ष जगदानंद सिंह और अन्य शीर्ष नेताओं को भी इस कार्यक्रम में आमंत्रित नहीं किया गया था। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को भी आमंत्रित नहीं किया गया था।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia