बेटियों के बिजनेस पार्टनर पर ED छापेमारी पर बिफरे संजय राउत, बताया राजनीति से प्रेरित, अंजाम भुगतने की दी चेतावनी

सुजीत पाटकर संजय राउत की दो बेटियों- पूर्वशी और विधिता के साथ उनकी वाइन कंपनी मैगपाई डीएफएस प्राइवेट लिमिटेड में पिछले 16 वर्षों से साझेदार हैं। ईडी की टीम ने गुरुवार को लगभग 1,034 करोड़ रुपए के जमीन घोटाले के मामले में पाटकर के परिसरों पर छापेमारी की थी।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

शिवसेना नेता संजय राउत ने अपनी बेटियों की वाइन कंपनी में साझेदार पर प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की छापेमारी को राजनीति से प्रेरित करार दिया है। उन्होंने कहा यदि कोई एजेंसी राजनीतिक लक्ष्य प्राप्त करने के लिए झूठ बोलती है, तो उसे भुगतान भी करना होगा।

ईडी ने पिछले दिनों शिवसेना नेता संजय राउत की बेटियों के पार्टनर सुजीत पाटकर के घर छापेमारी की थी। इसको लेकर सोमवार को सजंय रावत ने कहा, "उन्हें (ईडी) छापेमारी करने दें। मैं उनका स्वागत करूंगा। बस झूठ मत बोलो, वर्ना वे भुगतेंगे। यदि कोई एजेंसी राजनीतिक लक्ष्य प्राप्त करने के लिए झूठ बोलती है, तो उसे भुगतान करना होगा। मैं बताना चाहूंगा की इस अवैध जांच के कारण अधिकारियों से लेकर मंत्री तक सभी जेल गए हैं।"

दरसअल ईडी की टीम ने गुरुवार को शिवसेना नेता संजय राउत की बेटियों के पार्टनर सुजीत पाटकर के घर छापेमारी की थी। लगभग 1,034 करोड़ रुपए के जमीन घोटाले के मामले में सुजीत पाटकर के परिसरों पर छापेमारी के बाद संजय राउत की बेटियां ईडी के जांच के दायरे में आ गई हैं। सुजीत पाटकर राउत की बेटियों के व्यवसायिक साझेदार हैं।


सुजीत पाटकर संजय राउत की दो बेटियों- पूर्वशी और विधिता के साथ उनकी वाइन कंपनी मैगपाई डीएफएस प्राइवेट लिमिटेड में पिछले 16 वर्षों से साझेदार हैं। जानकारी के अनुसार, पाटकर की पत्नी और संजय राउत की पत्नी ने संयुक्त रूप से अलीबाग में जमीन खरीदी है।
इस मामले में प्रवर्तन निदेशालय ने प्रवीण राउत नाम के एक रियल स्टेट कारोबारी को बुधवार को गिरफ्तार किया था।

ईडी के अनुसार, वह पूछताछ में पुलिस का सहयोग नहीं कर रहा था। इसलिए उसे गिरफ्तार कर लिया गया। गुरु आशीष कंस्ट्रक्शन प्राइवेट लिमिटेड नामक कंपनी के पूर्व निदेशक प्रवीण राउत को संजय राउत का करीबी बताया जाता है। कुछ रिपोर्ट में यह भी बताया गया है कि संजय राउत की पत्नी के खाते में प्रवीण राउत की पत्नी ने पैसे भी हस्तांतरित किए थे। ईडी प्रवीण की 72 करोड़ रुपए की संपत्ति पहले ही कुर्क कर चुकी है।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia