पवार के घर हमले के मामले में सतारा पुलिस ने वकील को किया गिरफ्तार, जांच में चौंकाने वाले खुलासे

इस मामले में पुणे के एक पत्रकार चंद्रकांत सूर्यवंशी समेत कुल 115 लोगों की गिरफ्तारी हुई है। विशेष लोक अभियोजक ने बताया कि मुख्य आरोपियों में से एक वकील गुमतरन सदावर्ते ने एमएसआरटीसी कर्मचारियों से केस लड़ने के लिए 2 करोड़ रुपये से अधिक एकत्र किया है।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) के अध्यक्ष शरद पवार के घर पर हुए हमले के मामले में सतारा पुलिस ने महाराष्ट्र राज्य सड़क परिवहन निगम (एमएसआरटीसी) के कर्मचारियों के वकील गुणरतन सदावर्ते को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस के मुताबिक, गुमतरन सदावर्ते मुख्य आरोपियों में से एक है।

8 अप्रैल को मुंबई में शरद पवार के सिल्वर ओक्स बंगले पर सदावर्ते के नेतृत्व में कई महिलाओं समेत एमएसआरटीसी के 100 से ज्यादा कर्मचारियों की भीड़ ने पत्थरों और जूतों से हमला किया था। इस मामले की जांच करते हुए पुलिस ने सदावर्ते को गिरफ्तार कर लिया, जबकि उनकी पत्नी जयश्री पाटिल सदावर्ते अभी फरार है। सदावर्ते को 14 दिनों के लिए न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है।


इस मामले में पुणे के एक पत्रकार चंद्रकांत सूर्यवंशी समेत कुल 115 की गिरफ्तारी हुई है। जिन्हें 16 अप्रैल तक 3 दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया गया है। विशेष लोक अभियोजक प्रदीप डी. घरत ने बताया कि सदावर्ते ने एमएसआरटीसी के कर्मचारियों से उनका केस लड़ने के लिए 2 करोड़ रुपये से अधिक एकत्र किया है।

इस मामले में महाराष्ट्र के गृह विभाग ने खुफिया सूचनाओं पर ध्यान देने में हुई चूक की बात स्वीकार की है। साथ ही कहा कि एमएसआरटीसी के जो भी कर्मचारी हमले में शामिल पाए गए, उन्हें सेवा से बर्खास्त कर दिया जाएगा।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia