क्या येदियुरप्पा का बचेगा ताज? दो घंटे बाद सुप्रीम कोर्ट में फैसला आज

सुप्रीम कोर्ट अब से दो घंटे बाद तय कर देगा कि कर्नाटक के नव नियुक्त मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पा का ताज बचेगा या नहीं।

तमाम संवैधानिक मूल्यों को ताक पर कर्नाटक के राज्यपाल ने बीजेपी के बी एस येदियुरप्पा को मुख्यमंत्री पद की शपथ तो दिला दी, लेकिन उनके सिर पर राजनीतिक अनिश्चितता की तलवार अभी लटक रही है। उन्हें आज सुबह साढ़े दस बजे सुप्रीम कोर्ट में साबित करना होगा कि उनके पास बहुमत के लिए जरूरी विधायकों का समर्थन है।

गुरुवार को उन्हें शपथ दिलाई गई, लेकिन उनके शपथ से कोई चार घंटे पहले सुप्रीम कोर्ट ने आधी रात से सुबह 5 बजे तक चली सुनवाई में आदेश दिया था कि येदियुरप्पा शुक्रवार सुबह कोर्ट खुलते ही समर्थक विधायकों की सूची कोर्ट को उपलब्ध कराएं।

इस मामले की सुनवाई सुप्रीम में तीन जजों की बेंच करेगी। इस बेंच में जस्टिस ए के सीकरी, जस्टिस अशोक भूषण और जस्टीस एस ए बोबडे शामिल हैं।

यदियुरप्पा को सुप्रीम कोर्ट में अपने वह दोनों पत्र जो उन्होंने 15 और 16 मई को राज्यपाल को सौंपे थे और समर्थक विधायकों की सूची सौंपनी है।

यह भी पढ़ें : सुप्रीम कोर्ट में ऐतिहासिक सुनवाई, पढ़िए आधी रात से भोर तक चली बहस में किसने क्या कहा...

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

सबसे लोकप्रिय