देशभर में नए 'हिट एंड रन' कानून के खिलाफ चक्काजाम का दूसरा दिन, ट्रांसपोर्ट सिस्टम ठप, बढ़ी मुश्किलें

केंद्र सरकार द्वारा लाए गए नए 'हिट एंड रन' कानून के मुताबिक, अगर कोई ट्रक या डंपर ड्राइवर किसी को कुचलकर भाग जाता है तो उसे 10 साल की जेल होगी। साथ ही उसे 7 लाख रुपये जुर्माना भी देना होगा।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

केंद्र सरकार द्वारा लाए गए नए 'हिट एंड रन' कानून के खिलाफ देशभर में ट्रक और टंपर चालकों के हड़ताल का आज दूसरा दिना है। हड़ताल से ट्रांसपोर्ट सिस्टम ठप हो गया है। ऐसे में लोगों की मुश्किलें बढ़ गई हैं। हड़ताल का असर उत्तर प्रदेश, दिल्ली, हरियाणा और मुंबई से लेकर  इंदौर तक देखा जा रहा है। इन जगहों पर ट्रक चालकों ने ट्रकों को सड़कों पर खड़ाकर जाम लगा दिया है। पेट्रोल पंपों पर लंबी लाइनें देखने को मिल रही हैं। ट्रक चालकों की हड़ताल 1 जनवरी को शुरू हुई और तीन जनवरी तक चलेगी।

नए हिंट एंड रन कानून में क्या है?

केंद्र सरकार द्वारा लाए गए नए 'हिट एंड रन' कानून के मुताबिक, अगर कोई ट्रक या डंपर ड्राइवर किसी को कुचलकर भाग जाता है तो उसे 10 साल की जेल होगी। साथ ही उसे 7 लाख रुपये जुर्माना भी देना होगा। पुराने कानून के तहत इस मामले में दो साल की सजा का प्रावधान था। कुछ ही दिनों में आरोपी ड्राइवर को जमानत मिल जाती थी। ऐसे में ट्रक चालकों का कहना है कि मौजूदा कानून गलत है, और इसे सरकार को वापस लेना चाहिए।


देशभर में हड़ताल का दिख रहा असर

इस कानून के खिलाफ देशभर के ट्रक डाइवरों में गुस्सा देखने को मिल रहा है। कानून के खिलाफ ग्रेटर नोएडा के ईकोटेक 3 क्षेत्र में भी ट्रक यालकों ने ट्रक खड़े कर जाम लगा दिया और जमकर नारेबाजी की। बाद में पुलिस के समझाने पर उन्होंने अपने ट्रक हटा लिए।

मध्य प्रदेश के इंदौर में ट्रक चालकों की हड़ताल का असर  देखा जा रहा है। हड़ताल का असर पेट्रोल पंप पर भी पड़ा। यहां पेट्रोल पंप पर गाड़ियों की लंबी लंबी लाइनें लग गई हैं। हड़ताल की वजह से अलग-अलग राज्यों में ईंधन पेट्रोल पंप तक नहीं पहुंच पा रहा है। जैसे ही यह खबर लगी, पेट्रोल पंप पर पेट्रोल लेने के लिए लोगों की भीड़ उमड़ गई और पेट्रोल पंप पर वाहनों की लंबी लंबी कतारें लग गईं।

हड़ताल का असर महाराष्ट्र में भी देखने को मिल रहा है। प्रदेशभर में ट्रक चालक नए कानून के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। हड़ताल की वजह से सड़कों पर लंबा जाम लग गया है। 

मध्य प्रदेश के देवास जिले में बस और ट्रक ड्राइवर्स का गुस्सा देखने को मिला। शहर में दो से तीन जगहों पर रास्ते बंद करने की कोशिश की गई। रसूलपुर बायपास पर दो घंटे तक चक्काचाम कर दिया, जिसकी वजह से गाड़ियों की लंबी-लंबी लाइनें लग गईं। पुलिस-प्रशासन के समझा कर जाम खुलवाया। 

राजस्थान के हनुमानगढ़ में हड़ताल का असर देखने को मिला। ट्रक और बस ड्राइवरों ने सड़क पर उतर प्रदर्शन किया। हाईवे पर जाम लगा दिया। ड्राइवर जिला कलेक्ट्रेट पर भी पहुंचे और विरोध प्रर्दन किया और कानून वापस लेने की मांग की।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;