यूपी के कद्दावर नेता हरिशंकर तिवारी का निधन, 6 बार विधायक और 5 बार कैबिनेट मंत्री रहे

पूर्वांचल के ब्राह्मणों में अच्छी पैठ रखने वाले हरिशंकर तिवारी छह बार विधायक रहे तो पांच बार उन्हें कैबिनेट मंत्री बनने का मौका मिला। वह तीन बार कांग्रेस के टिकट पर भी चुनाव लड़कर जीते और यूपी सरकार में मंत्री भी बने थे।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

उत्तर प्रदेश सरकार में पांच बार कैबिनेट मंत्री रहे बाहुबली नेता पंडित हरिशंकर तिवारी का 91 वर्ष की आयु में निधन हो गया है। मंगलवार की शाम को अपने आवास पर उन्होंने अंतिम सांस ली। निधन की सूचना मिलते ही धर्मशाला स्थित उनके आवास पर समर्थकों की भीड़ जुट गई। अपने पीछे वे दो बेटे और एक बेटी छोड़ गए हैं। 

निधन की सूचना मिलते ही उनके घर और गोरखपुर हाता पर समर्थकों की भीड़ जुट गई है। बुधवार की सुबह उनके शव को जनता के दर्शन के लिए हाता परिसर में रखा जाएगा। इसके बाद बड़हलगंज स्थित गांव टांडा ले जाया जाएगा। वहां से शव को नेशनल इंटर कॉलेज ले जाया जाएहगा, जहां के वे प्रबंधक भी रहे हैं। इसके बाद बड़हलगंज स्थित मुक्तिधाम पर उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा।


बता दें कि पूर्वांचल के ब्राह्मणों में अच्छी पैठ रखने वाले पंडित हरिशंकर तिवारी छह बार विधायक रहे तो पांच बार उन्हें कैबिनेट मंत्री बनने का मौका मिला। सूबे में किसी भी राजनीतिक दल की सरकार आई, उसने अपनी कैबिनेट में उन्हें जगह दी। हरिशंकर तिवारी ने पहला चुनाव 1985 में निर्दलीय लड़ा था, फिर अलग-अलग राजनीतिक दल के टिकट पर चुनाव लड़कर जीतते रहे।  वह तीन बार कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़कर जीते और यूपी सरकार में मंत्री भी बने थे।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;