हालात

देश की साइबर सुरक्षा भगवान भरोसे, पीएम की वेबसाइट में मिली खामियां, तो पाकिस्तान ने हैक की केंद्रीय मंत्री की वेबसाइट

पाकिस्तानी हैकरों ने सोमवार को एक केंद्रीय मंत्री की वेबसाइट और दो भारतीय राजनयिकों के सोशल मीडिया अकाउंट पर साइबर हमला बोल दिया। इन हैकरों ने इस हमले में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का मजाक भी उड़ाया। उधर एक व्यक्ति की पीएम की वेबसाइट में खामियों को उजागर किया।

फोटो : सोशल मीडिया
फोटो : सोशल मीडिया

धैर्य माहेश्वरी

केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत की वेबसाइट सोमवार को हैक हो गई। माना जा रहा है कि वेबसाइट को पाकिस्तान से हैक किया गया है। हैकर ने शेखावत की वेबसाइट पर पाकिस्तानी झंडा लगा दिया है और पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए एक संदेश लिखा है।

इसके अलावा हैकिंग के दौ और मामले सामने आए। पाकिस्तान में तैनात दो भारतीय राजनयिकों के सोशल मीडिया अकाउंट्स भी हैक कर लिए गए। एक मामले में राजनयिक के फेसबुक अकाउंट पर लॉगिन करने की लगातार कोशिशें की गईं. जिसके बाद फेसबुक ने राजनयिक को अलर्ट करते हुए एक ईमेल भेजा

केंद्रीय कृषि और किसान कल्याण राज्यमंत्री गजेंद्र सिंह शैखावत की वेबसाइट पर सोमवार सुबह साइबर हमला हुआ। हैकर ने हाल में रिलीज़ हुई फिल्म उरी – द सर्जिकल स्ट्राइक और 2015 में आई फिल्म फैंटम को लेकर प्रधानमंत्री का मजाक उड़ाया। हैकर ने लिखा, “तुम सिर्फ फिल्में बना सकते हो, हमला नहीं कर सकते।”

बॉलीवुड फिल्म उरी को मोदी शासन के दौरान पाकिस्तान के खिलाफ हुए सर्जिकल स्ट्राइक की कहानी बताया जा रहा है, वहीं फैंटम फिल्म एक काल्पनिक कहानी थी जिसमें एक भारतीय सैनिक 26/11 हमले का बदला लेता है।

सूत्रों का कहना है कि भारतीय एजेंसियां इस साइबर हमले का जवाब देने की तैयारी कर रही हैं। सूत्रों के मुताबिक पिछले दिनों में इस तरह के कई साइबर हमले हुए हैं, जो पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई के तौरतरीकों से मेल खाते हैं।

सूत्रों का कहना है कि “सभी साइबर हमले पाकिस्तानी हैकर्स की कारस्तानी लगते हैं जिन्हें आईएसआई की देखरेख में अंजाम दिया गया है।”

सूत्रों के मुताबिक ये साइबर हमले उस कार्रवाई का बदला लेने के लिए किए गए हो सकते हैं जिसमें पाकिस्तानी उच्चायोग में काम करने वाले एक पाकिस्तानी अधिकारी को रविवार को कुछ देर के लिए दिल्ली में हिरासत में लिया गया था। इस अधिकारी को एक महिला के साथ बहस करने के आरोप में हिरासत में लिया गया था, लेकिन बाद में उसे राजनयिक प्रतिरक्षा के तहत छोड़ दिया गया था।

बीते काफी समय से भारतीय विशेषज्ञ कहते रहे हैं कि सीमा पार से आने वाली चुनौतियों और धमकियों से निपटने के लिए भारत की तैयारी आधी-अधूरी है, और वह पाकिस्तान तक से निपटने लायक नहीं है। पिछले सप्ताह साइबर एक्सपर्ट डॉ निशिकांत ओझा ने नेशनल हेरल्ड से बातचीत में कहा था कि, “साइबर हमलों से निपटने के मामले में पाकिस्तान हमसे बेहतर है।”

इसके अलावा फ्रांस में सुरक्षा विषयों पर शोध करने वाले एक एथिकल हैकर ने सोमवार को दावा किया कि ‘नरेंद्र मोदी डॉट इन’ वेबसाइट सुरक्षित नहीं है। इसके बाद हैकर ने ही कहा कि इस वेबसाइट का संचालन करने वाली टीम ने उनसे संपर्क किया है और अब उसे अधिक सुरक्षित बनाने के प्रयास किए जा रहे हैं।

ट्विटर पर इलियट एंडरसन नाम लिखने वाले यूजर रॉबर्ट बेपटिस्ट ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की वेबसाइट का स्क्रीनशॉट अपलोड करके लिखा- ‘किसी अनजान व्यक्ति ने इस वेबसाइट पर मेरा नाम लिखकर चौंकाने वाला काम किया है। यह अनजान व्यक्ति वेबसाइट के डाटाबेस तक आसानी से पहुंच सकता है। अगर इस वेबसाइट की टीम चाहे तो मुझसे संपर्क करके जल्द उसे सुरक्षित बना सकते हैं।’ हालांकि, कुछ ही समय बाद एंडरसन ने ट्वीटर पर फिर लिखा कि उक्त वेबसाइट की टीम उनसे संपर्क में है और वे वेबसाइट को अधिक सुरक्षित बनाने में जुट गए हैं।

लोकप्रिय